1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक? इसकी मदद से शेयर बाजार में निवेशक बन जाते हैं बाजीगर; वॉरेन बफेट भी हैं इसके फैन

क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक? इसकी मदद से शेयर बाजार में निवेशक बन जाते हैं बाजीगर; वॉरेन बफेट भी हैं इसके फैन

शेयर मार्केट में हरियाली सभी को पसंद है और मार्केट का टूटना बहुत लोगों को नापसंद। जो लोग गिरते मार्केट में सही mutual fund या शेयर को चुनते हैं असली बाजीगर वही होते हैं। जानिए आप कैसे अच्छी कमाई कर सकते हैं?

ANISH KUMAR SINGH Written By: ANISH KUMAR SINGH
Updated on: November 20, 2022 20:47 IST
क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक? - India TV Hindi
Photo:PTI क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक?

आज हम गिर रहे मार्केट में mutual fund में निवेश करने का तरीका सीखने वाले हैं। इसे मैंने अपने हिसाब से नाम दिया है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक। इस अनोखे तरीके की मदद से आप अपने पैसे को सही वक़्त पर और सही लेवल पर mutual fund या शेयर मार्केट में लगा सकते हैं।

'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक क्या है

ब्लास्ट Lumpsum को हमें Index Fund में इस्तेमाल करना है। Index fund को दुनिया के सबसे बड़े इन्वेस्टर वॉरेन बफेट  सबसे सुरक्षित फंड्स में से एक मानते हैं। हम यहां ये मानकर चल रहे हैं कि आपने Nifty 50 के index fund को चुना है। निफ्टी 50 में देश की टॉप-50 कंपनियां होती हैं, इसीलिए ये इंडेक्स मुझे ज्यादा पसंद है।

मान लीजिये Nifty 50 अभी 18 हजार पर है और आपने इन्वेस्टमेंट करना शुरू किया। अब Nifty 50 के 200 अंक गिरने का इंतजार करें। तभी ब्लास्ट Lumpsum के हिसाब से इन्वेस्ट करना शुरू करेंगे। इसमें ये कोई जरूरी नहीं है कि अगली बार भी निफ्टी 50 डाउन ही हो। हो सकता है कि आपके एक इन्वेस्टमेंट के बाद Nifty ऊपर चढ़ जाए। तब तक हमें उस घड़ी का इंतजार करना चाहिए। इसमें महीने भी लग सकते हैं, लेकिन ध्यान यही रखना है कि तभी ब्लास्ट Lumpsum के हिसाब से पैसे लगाने हैं जब पिछली बार के मुकाबले Nifty कम से कम 200 या उससे अधिक पॉइंट्स के मार्जिन से नीचे आये(कम से कम 1.5 से 2% डाउन हो)। दिनभर निफ्टी 50 पर नज़र बनाए रखने की जरूरत नहीं है, दोपहर 3 से सवा 3 बजे के लगभग एक बार देख लीजिए। आपको लगे कि मार्केट काफी डाउन हो गया है, और आपके सेट किये गए नेक्स्ट लेवल के पास या उससे भी नीचे  पहुंच गया है तो आप उसी समय इन्वेस्ट कर सकते हैं।

क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक?

Image Source : INDIA TV
क्या है 'ब्लास्ट Lumpsum' टेक्निक?

गिरावट पर कैसे और कितना करें निवेश

आप अपने पैसों को 5 हिस्सों में बांट लें। मान लेते हैं आपके पास 1 लाख रुपये है। तो आप अपने उन पैसों को 10-10-20-20-40 हजार में डिवाइड कर अलग रख दें। अगर आपने निफ्टी 50 के 200 या उससे ज्यादा अंक गिरने पर 10 हजार लगाया है। (यानी 17800 के लेवल पर) तो अगली बार भी 10 हजार ही आपको lumpsum करना है, और अगली बार चाहे कई महीने ही क्यों न हो जाएं इंतजार कीजिये और जब पिछली बार के रेंज से( जितने अंक पर हमने पैसे लगाए थे) 200 अंक और नीचे आये यानी 17600 के लेवल पर आए तो इस बार तीसरा हिस्सा यानी 20 हजार लगाने हैं, और ऐसे ही अगली बार भी जब निफ्टी में और 200 अंकों की गिरावट हो यानी 17400 के लेवल तक नीचे गिर जाए तो आपको चौथा हिस्सा यानी 20 हजार लगाना है। 

ऐसी स्थिति में करें पांचवे हिस्से का इंवेस्टमेंट

17200 के लेवल पर निफ्टी 50 गिर जाए तो आपको पांचवां हिस्सा यानी 40 हजार लगाना है। अपने पास रखे पैसों के हिसाब से आपको ऐसे ही आगे बढ़ते जाना है। अब ऐसे ही 3 से 4 निफ्टी 50 index fund को नई नई सीरीज में पैसे लगाने के लिए तैयार रखें। यकीन मानिए इस शानदार तरीके को अपनाकर आप भविष्य में शानदार पैसे बना सकते हैं। क्योंकि जैसे जैसे मार्केट गिर रहा होता है वैसे वैसे नीचे के लेवल पर आप उतना ही ज्यादा मार्केट में पैसे लगा रहे होते हैं, और जब एक बार मार्केट ऊपर उठना शुरू करता है तो आप बड़ी तेजी से फ़ायदे में आ जाते हैं, और आपका पोर्टफोलियो हरा भरा हो जाता है, और आप तबतक अच्छे खासे मुनाफ़े पर होते हैं। अब ये आपके ऊपर है कि आप शॉर्ट टर्म में प्रॉफ़िट बुक करते हैं या फिर लॉन्ग टर्म के लिए इसे छोड़ देते हैं। मेरी राय यही है कि आप लॉन्ग टर्म के लिए इसे छोड़ दें। इस तरीके से इन्वेस्ट किए गए पैसे को आप अपने बच्चे के हायर एजुकेशन या शादी के वक़्त निकालें। कम से कम 10-15 साल जरूर रहने दें। फिर आपको कंपाउंडिंग का असली फ़ायदा नज़र आएगा, और तब आप मुझे याद करेंगे। जिनके पास पैसे ज्यादा हो वे लोग 20-20-40-40-80 हजार  के हिसाब में ब्लास्ट Lumpsum का ये तरीका अप्लाई कर सकते हैं। जिनके पास कम पूंजी है वो भी महज हजार रुपये से स्टार्ट कर सकते हैं। 

Latest Business News