1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. डार्विन प्लेटफार्म ग्रुप ने 3 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स लॉन्च के साथ ग्रीन मोबिलिटी में प्रवेश किया

डार्विन प्लेटफार्म ग्रुप ने 3 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स लॉन्च के साथ ग्रीन मोबिलिटी में प्रवेश किया

डार्विन EVAT ने स्कूटरों की कीमत अपने प्रतिस्पर्धी से कम रखी हैं तथा डार्विन- D-5, D- 7 और D-14 की कीमतें 1 लाख रुपये से कम होंगी। इनकी कीमत वास्तव में मात्र 68,000 रुपये से 86,000 रुपये के बीच ही है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: November 22, 2021 17:36 IST
डार्विन प्लेटफार्म ग्रुप ने 3 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स के लॉन्च के साथ ग्रीन मोबिलिटी में प्रवेश किया- India TV Paisa

डार्विन प्लेटफार्म ग्रुप ने 3 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स के लॉन्च के साथ ग्रीन मोबिलिटी में प्रवेश किया

Highlights

  • डार्विन प्लेटफार्म ग्रुप ने 'मेक इन इंडिया' के साथ तीन मॉडल- D-5, D-7 और D-14 लॉन्च किए।
  • डीपीजीसी शुरू में इस ग्रीन-वाहन के विकास और उत्पादन के लिए लगभग 450 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।
  • इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स को मैरी कोम द्वारा पेश किया गया।

नई दिल्ली: भारत का प्रमुख व्यवसायिक समूह डार्विन प्लेटफ़ॉर्म ग्रुप ऑफ़ कंपनीज़ (डीपीजीसी) ने नेक्स्ट जेनरेशन बैटरी चालित दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) क्षेत्र में प्रवेश कर एक नई यात्रा की शुरुआत की। डार्विन EVAT-डार्विन प्लेटफ़ॉर्म ग्रुप ऑफ़ कंपनीज़ का एक ग्रीन वेंचर है और आज तीन इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के उत्तम मॉडल - डार्विन- D-5, D-7 और D-14 के लॉन्च की घोषणा की।  इस रेंज को वर्ल्ड एमेच्योर बॉक्सिंग चैंपियन मैरी कॉम के द्वारा पेश किया गया।

डार्विन इलेक्ट्रिक वाहन जापानी तकनीकी मानकों के साथ किफायती मूल्य पर उच्चतम माइलेज दक्षता पर आते हैं । 'चार्ज एंड गो' मैक्सिम के साथ, ये टू-व्हीलर्स EVs-डार्विन- D-5, D-7 और D-14 युवा पीढ़ी को माइलेज दक्षता सहित कई रोमांचक विशेषताओं का एक नया अनुभव प्रदान करते हैं जिनमें  मस्कुलर डिजाइन, बिना चाबी प्रविष्टि, पुनर्योजी ब्रेकिंग, गति नियंत्रण गियर, बैटरी स्वैपिंग, बड़ी एलईडी डिस्प्ले, उच्च गुणवत्ता वाले सस्पेंशन, यूएसबी मोबाइल चार्जर पोर्ट, हज़ार्ड स्विच जैसे फीचर्स शामिल हैं।  

डार्विन ईवी के लॉन्च के साथ समूह की हरित पहल की घोषणा करते हुए डीपीजीसी समूह के सीईओ डॉ राजा रॉय चौधरी ने कहा, "वैश्विक ऑटोमोटिव उद्योग एक नए चरण में है और भारत ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी की ओर बढ़ना शुरू कर दिया है - डार्विन EVAT का लक्ष्य इस इलेक्ट्रिक-क्रांति में अधिक योगदान करना है।  हमारे ईवी सेगमेंट का जन्म "क्लास लीडिंग प्रोडक्ट्स" के विचार के साथ हुआ था जो कि हरित क्रांति को भी बढ़ावा देता है - एक पर्यावरण के अनुकूल पहल।"

सौरभ मोहन सक्सेना, निदेशक और हेड, ऑटोमोबाइल व्यवसाय ने कहा कि “दुनिया के लिए 'मेक इन इंडिया' के साथ तीन मॉडल- D-5, D- 7 और D-14 के लॉन्च के साथ हम एक नई यात्रा शुरू कर रहे हैं और डीपीजीसी ने कार्बन नूट्रलिटी एवं स्थिरता के क्षेत्र में एक बड़ी छलांग लगाई है। हम ऐसे इलेक्ट्रिक वाहन पेश कर रहे हैं जो मानक और गुणवत्ता में जापानी इलेक्ट्रिक वाहन के बराबर हैं तथा ऑस्ट्रिया सेंट्रल एशिया के साथ एक अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता प्रमाणीकरण भी प्राप्त किया है। कंपनी-समूह शुरुआत में हरित वाहनों के उत्पादन के लिए विकास के लिए इसमें करीब 450 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे जिससे कि परिवर्तन और अनुसंधान को लेकर व्यापक दृष्टिकोण बने तथा जिसमें रणनीतिक साझेदारी और सहयोग भी शामिल है।"

डार्विन EVAT के वाहन सबसे लंबे समय तक काम करने वाले जीवन और उच्चतम माइलेज क्षमता के साथ आते हैं। इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स का दायरा बहुत बड़ा है। डार्विन EVAT ने इस अवसर को समझा है और वाजिब कीमत पर बेहतर गुणवत्ता वाले वाहनों की अवधारणा पर काम करना शुरू कर दिया है। डार्विन EVAT ने स्कूटरों की कीमत अपने प्रतिस्पर्धी से कम रखी हैं तथा डार्विन- D-5, D- 7 और D-14 की कीमतें 1 लाख रुपये से कम होंगी। इनकी कीमत वास्तव में मात्र 68,000 रुपये से 86,000 रुपये के बीच ही है।

अग्रणी वैश्विक प्रमाणन और गुणवत्ता ऑस्ट्रिया मध्य एशिया के निरीक्षण बॉडी के अनुसार एक बार चार्ज करने पर ये इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर 70-120 किमी तक जा सकते हैं। दिल्ली-एनसीआर में स्थित विनिर्माण संयंत्र, पर्यावरण के अनुकूल स्थायी विनिर्माण प्रैक्टिसेज को अपनाएगा। यह संयंत्र मैन्युफैक्चरिंग एंड टेस्टिंग, व्हीकल असेंबली, और व्हीकल एंड ऑफ लाइन टेस्टिंग (EOL) के लिए एक एकीकृत पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करता है।

Write a comment
bigg boss 15