1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. महंगे पेट्रोल-डीजल से राहत दिलाएंगे Maruti के CNG वाहन, सिर्फ 1.5 रुपये प्रति किलोमीटर आता है खर्च

महंगे पेट्रोल-डीजल से राहत दिलाएंगे Maruti के CNG वाहन, सिर्फ 1.5 रुपये प्रति किलोमीटर आता है खर्च

सीएनजी पर वाहन चलाने की लागत केवल 1.5 रुपये प्रति किलोमीटर है, जबकि पेट्रोल और डीजल के लिए यह लगभग चार रुपये प्रति किलोमीटर है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: February 22, 2021 11:25 IST
Maruti looking to cash in on increased demand for CNG vehicles- India TV Paisa
Photo:MARUTI SUZUKI

Maruti looking to cash in on increased demand for CNG vehicles

नई दिल्‍ली। पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों के बीच मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India:MSI) अपने सीएनजी वाहनों (CNG vehicles) की बढ़ी मांग को भुनाने में लगी है। कंपनी चालू वित्त वर्ष में सीएनजी वाहनों की बिक्री में लगभग 50 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद कर रही है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। कंपनी अभी भारत में कुल उपलब्ध 14 में से आठ मॉडलों में सीएनजी विकल्प प्रदान करती है। कंपनी इस पोर्टफोलियो के विस्तार के लिए भी सक्रिय रूप से काम कर रही है।

मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक (विपणन एवं बिक्री) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि इस साल उद्योग में सीएनजी (वाहन) सेगमेंट लगभग 37 प्रतिशत बढ़ा है, जब अप्रैल-जनवरी की अवधि में कुल वृद्धि नकारात्मक (18 प्रतिशत गिरावट) रही है। इसका मतलब है कि सीएनजी विकल्प बहुत अच्छी तरह से बढ़ रहा है। यह बताते हुए कि सीएनजी वाहनों की मांग क्यों बढ़ गई है, उन्होंने कहा कि ईंधन के रूप में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में नाटकीय रूप से वृद्धि हुई है। इससे वाहनों को चलने की लागत बढ़ गई है।

सीएनजी से 1.5 रुपये प्रति किलोमीटर खर्च

श्रीवास्तव ने कहा कि सीएनजी पर वाहन चलाने की लागत केवल 1.5 रुपये प्रति किलोमीटर है, जबकि पेट्रोल और डीजल के लिए यह लगभग चार रुपये प्रति किलोमीटर है। लोग अब सीएनजी पसंद कर रहे हैं, क्योंकि चलने की लागत बहुत कम है, इसलिए सीएनजी वाहनों की बिक्री में वृद्धि हुई है।

ये 8 मॉडल हैं सीएनजी फ‍िटेड

मारुति सुजुकी अभी एस-प्रेसो, वैगन-आर, सेलेरियो, अर्टिगा, अल्‍टो, सुपर कैरी, डिजायर टूर और स्‍विफ्ट को कंपनी फ‍िटेड सीएनजी के साथ पेश करती है।

2020-21 में बिकी 21% अधिक वाहन

श्रीवास्‍तव ने बताया कि पिछले साल 2019-20 में मारुति ने कुल 1,06,000 सीएनजी वाहनों की बिक्री की थी। वहीं 2020-21 में मारुति अबतक 1,19,000 वाहनों की बिक्री कर चुकी है। उन्‍होंने कहा कि इस साल के अंततक हम 1,55,000 इकाई का आंकड़ा छू लेंगे।  

वैगन-आर है पहली पसंद

मुंबई और पुणे में कुल सीएनजी वाहनों में सेलेरियो और वैगन आर की हिस्‍सेदारी लगभग 70 प्रतिशत है। वहीं दिल्‍ली में वैगनगार की हिस्‍सेदारी 50 प्रतिशत है। सीएनजी वाहनों की मांग बढ़ने का एक दूसरा कारण यह भी है कि अब कई नए शहर सीएनजी स्‍टेशन नेटवर्क में शामिल हो गए हैं। चार साल पहले भारत में सीएनजी स्‍टेशनों की संख्‍या 1200 थी, जो वर्तमान में बढ़कर 2400 हो गई है।

Write a comment