Wednesday, June 19, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. ऑटो
  4. अप्रैल में आधी हो गई दोपहिया वाहनों की बिक्री, जनिए क्या है इसकी वजह

अप्रैल में आधी हो गई दोपहिया वाहनों की बिक्री, जनिए क्या है इसकी वजह

पिछले महीने इलेक्ट्रिक दोपहिया स्कूटर्स की बिक्री केवल 64,000 यूनिट्स की ही हुई है। मार्च में ये आंकड़ा 1.36 लाख से ज्यादा था।

Edited By: Abhinav Shalya
Published on: May 02, 2024 7:35 IST
Electric Scooter- India TV Paisa
Photo:FILE Electric Scooter

अप्रैल के महीने में दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में करीब 50 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली है। दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में गिरावट की वजह सब्सिडी को लेकर एक अप्रैल से लागू हुए बदलाव को माना जा रहा है। 

अप्रैल में कितने बिके इलेक्ट्रिक दोपहिया

पिछले महीने इलेक्ट्रिक दोपहिया स्कूटर्स की बिक्री केवल 64,000 यूनिट्स की ही हुई है। मार्केट लीडर ओला की ओर से केवल 33,000 से कुछ ज्यादा यूनिट्स बेचे गए हैं। लेकिन मार्च में ये आंकड़ा 50,000 यूनिट्स से ज्यादा का था। बता दें, सरकार के वाहन पोर्टल के वाहन पंजीकरण आंकड़ों के अनुसार, मार्च में इलेक्ट्रिक दोपहिया निर्माताओं ने 136,000 से अधिक इकाइयाँ बेचीं थी। जो एक महीने के रिकॉर्ड पर सबसे अधिक है।

दिग्गज कंपनियों को लगा झटका 

ओला ही बजाजा, टीवीएस और एथर जैसी कंपनियों को भी बड़ा झटका लगा है। बजाज ने अप्रैल में 7,500 से अधिक इकाइयां बेचीं, जबकि पिछले महीने में यह 18,000 से अधिक थी। टीवीएस की बिक्री मार्च में लगभग 26,000 से घटकर 7,600 इकाई रह गई। वहीं, एथर ने अप्रैल में 4,000 के करीब यूनिट्स बेची है। यह आंकड़ा मार्च में 17,000 से ज्यादा का था। 

मार्च में समाप्त हुई थी FAME-II की सब्सिडी

31 मार्च को फेम-II सब्सिडी सरकार की ओर से समाप्त कर दी गई थी। इसके तहत सरकार हर दोपहिया वाहन पर 10,000 रुपये प्रति यूनिट की सब्सिडी दे रही थी। लेकिन एक अप्रैल से सब्सिडी न मिलने के कारण बिक्री में गिरावट देखी गई है। 

30 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा बाजार 

वित्त 2023-24 में इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की बिक्री में 30 प्रतिशत की बढ़त देखी गई थी। इस दौरान 9.40 लाख से अधिक यूनिट्स सभी कंपनियों द्वारा बेचे गए हैं। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Auto News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement