Thursday, July 11, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. ऑटो
  4. Tata Motors की कॉमर्शियल गाड़ियां 1 जुलाई से होंगी महंगी, जानें कितना ज्यादा देना होगा दाम

Tata Motors की कॉमर्शियल गाड़ियां 1 जुलाई से होंगी महंगी, जानें कितना ज्यादा देना होगा दाम

जिंस कीमतों में बढ़ोतरी के मद्देनजर कंपनी ने कीमतों में बढ़ोतरी करने का फैसला किया है। इससे पहले भी टाटा मोटर्स ने कस्टमर्स को इसी साल अप्रैल में झटका दिया था। यानी अब नई गाड़ी खरीदने के लिए आपको ज्यादा पैसे देने होंगे।

Edited By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: June 19, 2024 14:29 IST
 कीमतों में बढ़ोतरी वाणिज्यिक वाहनों की पूरी सीरीज पर लागू होगी। - India TV Paisa
Photo:TATA MOTORS कीमतों में बढ़ोतरी वाणिज्यिक वाहनों की पूरी सीरीज पर लागू होगी।

देश और दुनिया की दिग्गज ऑटोमोबाइल कंपनी टाटा मोटर्स ने बुधवार को अपनी कॉमर्शियल गाड़ियों के दाम आगामी 1 जुलाई से दो प्रतिशत तक बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। कंपनी ने कहा है कि जिंस कीमतों में बढ़ोतरी के मद्देनजर यह फैसला करना पड़ा है। टाटा मोटर्स ने बुधवार को बयान में कहा कि कीमतों में बढ़ोतरी वाणिज्यिक वाहनों की पूरी सीरीज पर लागू होगी। यह अलग-अलग मॉडल और एडिशन के हिसाब से अलग होगी।

इस साल तीसरी बढ़ोतरी

खबर के मुताबिक, इस साल की शुरुआत में 150 अरब अमेरिकी डॉलर वाले टाटा समूह का हिस्सा, टाटा मोटर्स लिमिटेड ने उत्पादन लागत में बढ़ोतरी की वजह से 1 अप्रैल, 2024 से कीमतों में दो प्रतिशत वृद्धि की घोषणा की थी। टाटा मोटर्स देश की प्रमुख वाणिज्यिक वाहन विनिर्माता कंपनी है। यह ट्रक, बस और दूसरी कॉमर्शियल गाड़ियों का विनिर्माण करती है। टाटा मोटर्स की तरफ से इस साल कमर्शियल व्हीकल की कीमतों में की गई यह तीसरी बढ़ोतरी है। ऑटोमेकर ने पहली बार 1 जनवरी से कमर्शियल व्हीकल की कीमतों में 3% तक की बढ़ोतरी की घोषणा की थी।

टाटा मोटर्स के नतीजे रहे शानदार

टाटा मोटर्स ने 10 मई, 2024 को अपने मार्च तिमाही के वित्तीय परिणाम जारी किए थे। कंपनी ने अपने शुद्ध लाभ में साल-दर-साल 222 प्रतिशत की उल्लेखनीय उछाल दर्ज की, जो ₹17,407.18 करोड़ तक पहुंच गई। इस बीच, कंपनी ने समेकित राजस्व में उल्लेखनीय 13.3 प्रतिशत की वृद्धि देखी, जो ₹1,19,986.31 करोड़ थी।

कारोबार को अलग कर रही कंपनी

टाटा मोटर्स अपने कॉमर्शियल व्हीकल और पैसेंजर व्हीकल्स व्यवसायों को अलग कर रही है। इस साल 4 मार्च को, टाटा मोटर्स ने अपने व्यवसायों को दो अलग-अलग सूचीबद्ध संस्थाओं में विभाजित करने के लिए मूल्य-अनलॉकिंग अभ्यास की घोषणा की। एक सीवी व्यवसाय और उससे संबंधित निवेश होगा, और दूसरा पीवी व्यवसाय होगा, जिसमें ईवी इकाई, जेएलआर (जगुआर लैंड रोवर) और संबंधित निवेश शामिल होंगे।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Auto News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement