1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. Tree Bank: अब आपको भी मिलेगा हाइवे पर सफर का डबल मजा, नितिन गडकरी के इस ऐलान की हो रही तारीफ

Tree Bank: अब आपको भी मिलेगा हाइवे पर सफर का डबल मजा, नितिन गडकरी के इस ऐलान की हो रही तारीफ

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) राजमार्गों के किनारे हरियाली सुनिश्चित करने के लिए अपना ‘पेड़ बैंक’ खोलेगा।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: June 29, 2022 10:39 IST
Highway- India TV Hindi
Photo:@THEUPINDEX

Highway

Highlights

  • NHAI राजमार्गों के किनारे हरियाली सुनिश्चित करने के लिए अपना ‘पेड़ बैंक’ खोलेगा
  • निर्माण के लिए एक पेड़ को काटा जाएगा, तो उसकी जगह पांच पौधे लगाए जाएंगे
  • 2024 तक दुर्घटनाओं में मौतों के आंकड़े को 50% तक कम करने का प्रयास किया जाएगा

Tree Bank: देश में 30 से 40 की उम्र से अधिक के लोगों को बचपन में हाइवे का सफर शायद याद होगा, तब हाइवे के दोनों ओर हरियाली और बड़े पेड़ हुआ करते थे, जिनसे राहगीरों को काफी राहत​ मिलती थी। एक्सप्रेस वे के दौर में अब चौड़ी लेकिन वीरान सड़कें ही ​देखने को मिलती हैं। लेकिन अब शायद ऐसा न हो, जल्द ही संभव है कि आपको एक्सप्रेस वे से लेकर नेशनल हाइवे पर ड्राइविंग के दौरान सड़क की दोनों ओर दरख्त मिलें और आपके सफर का मजा दोगुना हो जाए। 

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इसी से जुड़ी एक अहम घोषणा की है। उन्होंने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) राजमार्गों के किनारे हरियाली सुनिश्चित करने के लिए अपना ‘पेड़ बैंक’ खोलेगा। उन्होंने इस दौरान सड़कों के किनारे पौधरोपण की आवश्यकता पर भी जोर दिया। 

1 पेड़ काटने पर लगेंगे 5 पौधे 

गडकरी ने कहा कि जब भी निर्माण के लिए एक पेड़ को काटा जाएगा, तो उसकी जगह पांच पौधे लगाए जाएंगे। उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग उत्कृष्टता पुरस्कार के दौरान कहा कि पेड़ों को बचाने के लिए नए-नए तरीकों के बारे में सोचने की जरूरत है। यदि ऐसा नहीं किया गया, तो सड़कों के निर्माण में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। केंद्रीय मंत्री ने सड़क दुर्घटनाओं में मौतों को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वर्ष 2024 इस आंकड़े को 50 प्रतिशत तक कम करने का प्रयास किया जाएगा। 

सड़क दुर्घटना में होने वाली मौत कम करने का प्रयास

उन्होंने कहा कि पेड़ों को बचाने के लिए नए-नए तरीकों के बारे में सोचने की जरूरत है। यदि ऐसा नहीं किया गया, तो सड़कों के निर्माण में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। केंद्रीय मंत्री ने सड़क दुर्घटनाओं में मौतों को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वर्ष 2024 इस आंकड़े को 50 प्रतिशत तक कम करने का प्रयास किया जाएगा।

एयर बैग अनिवार्य 

भारत में सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों के आंकड़े को कम करने के लिए सरकार मिशन मोड पर जुट गई है। इस बीच सरकार एक अहम कदम उठाने जा रही है, जिसके तहत अब 8 सीटों वाली एमपीवी कारों के लिए सरकार 6 एयरबैग को अनिवार्य बनाने जा रही है। इस फैसले से जहां वाहनों की कीमत में इजाफा हो सकता है लेकिन इस कदम से दुर्घटना में मौत की आशंका को रोका जा सकता है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार आठ सीट वाले वाहनों में छह एयरबैग को अनिवार्य बनाएगी। इसके तहत वाहन निर्माता गाड़ियों को और सुरक्षित बनाने के लिये आठ यात्रियों को ले जाने वाले वाहनों में छह एयरबैग उपलब्ध कराएंगे। 

Crash Tests से मिलेगी 'स्टार रेटिंग' 

पिछले हफ्ते सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर कि  ‘भारत नया कार आकलन कार्यक्रम’ (भारत एनकैप) देश में ग्राहकों को स्टार-रेटिंग के आधार पर सुरक्षित कार चुनने का विकल्प देगा। साथ ही यह सुरक्षित वाहनों के विनिर्माण के लिए मूल उपकरण विनिर्माताओं (ओईएम) के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देगा। उन्होंने कहा, मैंने भारत एनकैप शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के मसौदे को मंजूरी दे दी है। इसके तहत भारत में वाहनों को दुर्घटना परीक्षण में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ‘क्रैश’ परीक्षणों के आधार पर भारतीय कारों की स्टार रेटिंग कारों में संरचनात्मक और यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए ही नहीं बल्कि भारतीय वाहनों का निर्यात बढ़ाने के लिहाज से भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। 

Latest Business News