1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. IPO से 12 कंपनियों ने अबतक जुटाये 25,000 करोड़ रुपये, दिसंबर में भी मिलेगा कमाई का अच्‍छा मौका

IPO से 12 कंपनियों ने अबतक जुटाये 25,000 करोड़ रुपये, दिसंबर में भी मिलेगा कमाई का अच्‍छा मौका

2019 के पूरे साल में 16 आईपीओ के जरिये 12,362 करोड़ रुपये जुटाए गए थे। 2018 में 24 कंपनियों ने आईपीओ से 30,959 करोड़ रुपये जुटाए थे।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: November 30, 2020 9:32 IST
Cos raise Rs 25,000 cr via IPOs in 2020 so far; next year expected to be equally strong- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Cos raise Rs 25,000 cr via IPOs in 2020 so far; next year expected to be equally strong

नई दिल्‍ली। तरलता की बेहतर स्थिति तथा निवेशकों की उत्साहवर्धक प्रतिक्रिया के चलते कंपनियों ने इस साल अबतक आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये करीब 25,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि 2021 में भी आईपीओ बाजार मजबूत रहने की उम्मीद है। समीक्षाधीन अवधि में आईपीओ बाजार की गहराई बढ़ी है और विविध क्षेत्रों की कंपनियां बाजार में उतरी हैं। अब फार्मा, दूरसंचार, आईटी और वित्तीय सेवा क्षेत्र की कंपनियां भी आईपीओ बाजार में उतर रही हैं।

2020 में अबतक आए 12 IPO

शेयर बाजारों के पास उपलब्ध आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि 2020 में 12 आईपीओ के जरिये करीब 25,000 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं। 2019 के पूरे साल में 16 आईपीओ के जरिये 12,362 करोड़ रुपये जुटाए गए थे। 2018 में 24 कंपनियों ने आईपीओ से 30,959 करोड़ रुपये जुटाए थे। इस साल यानी 2020 में अबतक कंपनियों ने आईपीओ से 25,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। यह आंकड़ा अभी और बढ़ेगा क्योंकि बर्गर किंग का 810 करोड़ रुपये का आईपीओ दो दिसंबर को खुलने जा रहा है।

इस साल जुटाई गई अधिक राशि

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि इस साल आईपीओ के जरिये पिछले वर्ष की तुलना में अधिक राशि जुटाई गई है। इसकी प्रमुख वजह है कि अर्थव्यवस्था में गिरावट के बावजूद कंपनियां और खुदरा निवेशक प्राथमिक बाजार को लेकर रुचि दिखा रहे हैं। इसके अलावा कंपनियां अनिश्चितताओं की वजह से भी अपनी आगे की जरूरतों के लिए पूंजी जुटाना चाहती हैं।

एसबीआई कार्ड्स ने जुटाया सबसे ज्‍यादा धन

आंकड़ों के अनुसार, 2020 में एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट सर्विसेज लि.ने आईपीओ से 10,355 करोड़ रुपये जुटाए हैं। ग्लैंड फार्मा ने 6,480 करोड़ रुपये, कैम्स ने 2,240 करोड़ रुपये तथा यूटीआई एसेट मैनेजमेंट कंपनी ने 2,160 करोड़ रुपये जुटाए हैं। इनके अलावा रोसारी बायोटेक, हैप्पिएस्ट माइंड्स टेक्नोलॉजीज, रूट मोबाइल, केमकॉन स्पेशियल्टी केमिकल्स, एंजल ब्रोकिंग, इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक, लिखिता इन्फ्रास्ट्रक्चर और मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स ने आईपीओ मार्ग से धन जुटाया है। इन 12 कंपनियों के अलावा माइंडस्पेस बिजनेस पार्क्स रीट ने जुलाई में आईपीओ से 4,500 करोड़ रुपये जुटाए हैं। 

दिसंबर में आएंगे ये IPO

इस साल दिसंबर में कल्याण ज्वैलर्स अपना IPO लाएगी। सेबी (SEBI) के पास जमा किए गए ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रोस्पेक्टस (DRHP) के मुताबिक, IPO के जरिये कंपनी ने 1750 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसमें कंपनी 1000 करोड़ के फ्रेश शेयर जारी करेगी और 750 करोड़ रुपये का ऑफर फॉर सेल लाएगी। इसके अलावा ESAF Small Finance Bank भी अपना 1000 करोड़ रुपये का IPO दिसंबर में लाएगी। इसमें कंपनी के मौजूदा शेयरहोल्डर PI Venture और Bajaj Allianz Life Insurance 200 करोड़ रुपये के शेयर बेचेंगे और कंपनी 800 करोड़ रुपये का फ्रेश शेयर जारी करेगी। वहीं, बर्गर किंग 810 करोड़ रुपये का IPO लॉन्च करेगा, जिसमें 400 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर इश्यू किए जाएंगे। इनके अलावा मिसेज बेक्टर्स फूड (Mrs Bectors Food) का 550 करोड़ रुपये का IPO भी दिसंबर में लॉन्च हो सकता है

इन कंपनियों के IPO पाइपलाइन में

अपना IPO लॉन्च करने की तैयारी में जो कंपनियां हैं उनमें मिसेज बेक्टर्स फूड (Mrs Bectors Food), एलआईसी (LIC), ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक (ESAF Small Finance Bank), नजारा टेक्नोलॉजी (Nazara Technologies), बर्गर किंग (Burger King), रेलटेल (RailTel), कल्याण ज्वैलर्स (Kalyan Jewellers), नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) और जोमैटो (Zomato) जैसी कंपनियां शामिल हैं।

Write a comment
X