1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दावोस में होगी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की 50वीं बैठक, पीयूष गोयल भारतीय प्रतिनिधिमंडल का करेंगे नेतृत्व

20 से 24 जनवरी तक दावोस में होगी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की 50वीं बैठक, पीयूष गोयल भारतीय प्रतिनिधिमंडल का करेंगे नेतृत्व

स्विटजरलैंड के दावोस में विश्व आर्थिक मंच यानी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) की 50वीं सालाना बैठक होगी। 21 से 24 जनवरी 2020 तक वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की बैठक चलेगी।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: January 18, 2020 17:01 IST
Commerce Minister, Piyush Goyal, WEF 2020, Davos, Davos 2020, World Economic forum 2020- India TV Paisa

Commerce Minister Piyush Goyal to lead Indian delegation to WEF 2020 in Davos । File Photo

नई दिल्ली। स्विटजरलैंड के दावोस में विश्व आर्थिक मंच यानी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) की 50वीं सालाना बैठक होगी। 21 से 24 जनवरी 2020 तक वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की बैठक चलेगी। दावोस में हिस्सा लेने के लिए इस बार देश की 100 कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के पहुंचने की संभावना है। वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल इस कार्यक्रम में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। वाणिज्य मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी बयान में कहा गया है कि केंद्रीय मंत्री गोयल इस दौरान डब्ल्यूटीओ के मंत्रियों की अनौपचारिक बैठक में भी हिस्सा लेंगे। 

बताया जा रहा है कि इस बार वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की 50वीं सालाना बैठक में विश्व से करीब 3000 शक्तिशाली नेताओं और कारोबारियों के पहुंचने की संभावना है। इस बार बैठक का विषय 'संसक्त व स्थिर विश्व के साझीदार' रखा गया है। भारत की तरफ से बैठक में प्रमुख भारतीय कारोबारियों और दूसरी हस्तियों में गौतम अडानी, मुकेश अंबानी, राहुल और संजीव बजाज, कुमार मंगलम बिड़ला, टाटा समूह के एन.चंद्रशेखरन, सज्जन जिंदल, उदय कोटक, भारतीय स्टेट बैंक के रजनीश कुमार, आनंद महिंद्रा, सुनील मित्तल, राजन मित्तल, रवि रुइया, पवन मुंजाल, नंदन नीलेकणि, सलिल पारेख, एचसीएल टेक के सी. विजयकुमार, अजय पीरामल, रिशद प्रेमजी, अजय सिंह और फिरोजशाह गोदरेज आदि के शामिल होने की संभावना है। इसके अलावा बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की बैठक में मौजूद रहेंगी, जिन्हें पहले दिन क्रिस्टल अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा।  

कई देशों के मंत्रियों के साथ होगी द्विपक्षीय वार्ता

वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल अपने इस दौरे में ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, रूस, सऊदी अरब, स्विटजरलैंड, कोरिया और सिंगापुर के मंत्रियों के द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। इसके अलावा वह वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन के डायरेक्टर जनरल और ऑर्गेनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डवलपमेंट के सेक्रेटरी जनरल से भी मुलाकात करेंगे। वाणिज्य मंत्रालय ने कहा कि केंद्रीय मंत्री की इस फोरम में कई कंपनियों के सीईओ से मुलाकात के साथ भारतीय रेलवे में निवेश को बढ़ाने और वैश्विक वित्तीय संस्थानों की ओर से भारत में निवेश बढ़ाने के लिए राउंड टेबल कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।

भारतीय प्रतिनिधिमंडल में ये भी शामिल

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीयूष गोयल के साथ केंद्रीय जहाज रानी राज्य मंत्री मनसुख लाल मांडविया, कर्नाटक और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री, पंजाब के वित्त मंत्री और तेलंगाना के आईटी मंत्री में भारतीय प्रतिनिधिमंडल में शामिल रहेंगे। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय और इनवेस्ट इंडिया भी इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे।

दिग्गजों के आने की उम्मीद

दावोस में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन के भी पहुंचने की उम्मीद है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के आने को लेकर संशय बना हुआ है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान भी इस बैठक में आ सकते हैं। इनके अलावा अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी, इराक के राष्ट्रपति बरहम सालिह, फिनलैंड की प्रधानमंत्री सन्ना मारिन, हांगकांग स्वायत्त क्षेत्र की मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैरी लैम, नॉर्वे की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग, सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सेइन लूंग और स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति उएली मौरेर ने आने की पुष्टि कर दी है।

Write a comment