ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. IPO में निवेश करने वाले 52 फीसदी निवेशकों ने सूचीबद्ध होने के दिन ही शेयर बेचे: विश्लेषण

IPO में निवेश करने वाले 52 फीसदी निवेशकों ने सूचीबद्ध होने के दिन ही शेयर बेचे: विश्लेषण

आंकड़ों से पता चलता है कि मोतीलाल के निवेशक ग्राहकों में लगभग 5.7 लाख ने 2021-22 के शुरुआती चार महीनों में प्रारंभिक शेयर बिक्री में खरीदारी की, जबकि पिछले पूरे वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 5.1 लाख था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 23, 2021 18:56 IST
IPO में निवेश करने वाले 52 फीसदी निवेशकों ने सूचीबद्ध होने के दिन ही शेयर बेचे: विश्लेषण- India TV Paisa
Photo:FILE

IPO में निवेश करने वाले 52 फीसदी निवेशकों ने सूचीबद्ध होने के दिन ही शेयर बेचे: विश्लेषण

नई दिल्ली: मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के एक विश्लेषण के मुताबिक चालू वित्त वर्ष के पहले चार महीनों में लगभग 52 प्रतिशत आईपीओ निवेशकों ने शेयर बाजारों में सूचीबद्ध होने के दिन ही शेयर बेच दिए, जबकि दूसरे 20 प्रतिशत ने सूचीबद्ध होने के पहले सप्ताह में आवंटित शेयरों को बेच दिया। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (एमओएफएसएल) के ब्रोकिंग और वितरण व्यवसाय के अनुसार प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) के लगभग 64 प्रतिशत ग्राहकों ने कम से कम दो ऐसे सार्वजनिक निर्गमों के लिए आवेदन किया। 

आंकड़ों से पता चलता है कि मोतीलाल के निवेशक ग्राहकों में लगभग 5.7 लाख ने 2021-22 के शुरुआती चार महीनों में प्रारंभिक शेयर बिक्री में खरीदारी की, जबकि पिछले पूरे वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 5.1 लाख था। कुल आईपीओ ग्राहकों में लगभग दो-तिहाई तीन राज्यों - गुजरात, राजस्थान और महाराष्ट्र से हैं। एमओएफएसएल ने कहा कि 61 प्रतिशत ग्राहकों ने आईपीओ शेयरों के लिए ऑनलाइन आवेदन किया। ग्लेनमार्क लाइफसाइंसेज के आईपीओ ने 68 प्रतिशत ग्राहकों के साथ सबसे अधिक ऑनलाइन आवेदन हासिल किए और ऑनलाइन चैनल के माध्यम से कुल निवेश मूल्य का 71 प्रतिशत हासिल किया।

एमओएफएसएल के ब्रोकिंग एवं वितरण के पूर्णकालिक निदेशक और सीईओ अजय मेनन ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष के शेष भाग में कई कंपनियां प्राथमिक बाजारों के माध्यम से धन जुटाने की योजना बना रही हैं। आर्थिक बदलाव के आकार लेने और अनुकूल बाजार स्थितियों के साथ ही वित्त वर्ष 2021-22 में आईपीओ निवेश का एक बेहतर जरिया बना रहेगा, ऐसी उम्मीद है।’’ इस साल अब तक कम से कम 40 नई कंपनियां सूचीबद्ध हुई हैं, जिन्होंने पूंजी बाजार से करीब 68,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

Write a comment
elections-2022