1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सरकार मारिजुआना की कथित बिक्री के लिए Amazon के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे: कैट

सरकार मारिजुआना की कथित बिक्री के लिए Amazon के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे: कैट

उन्होंने कहा कि ‘‘अमेजन द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर मारिजुआना जैसे अवैध पदार्थ बेचने के मामले सामाने आये हैं और कंपनी के खिलाफ मध्य प्रदेश में भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। सरकार को मामले की गहराई से जांच करनी चाहिए और दोषियों को सजा देनी चाहिए।’’

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: November 22, 2021 16:15 IST
सरकार मारिजुआना की कथित बिक्री के लिए अमेजन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे: कैट- India TV Paisa
Photo:FILE

सरकार मारिजुआना की कथित बिक्री के लिए अमेजन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे: कैट

Highlights

  • राजस्थान कैट के अध्यक्ष सुभाष गोयल ने अमेजन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा।
  • ''अमेजन द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर मारिजुआना जैसे अवैध पदार्थ बेचने के मामले सामाने आये हैं।''
  • यह देश के युवाओं के भविष्य को नुकसान पहुंचा रहा है।

जयपुर: कनफेडरेशन ऑफ आल इंडिया (कैट) ट्रेडर्स ने सोमवार को सरकार से मारिजुआना की कथित बिक्री के लिये ई-कामर्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। राजस्थान कैट के अध्यक्ष सुभाष गोयल ने बताया कि केन्द्र और राज्य सरकार को ई-कॉमर्स के मंच पर ऐसे प्रतिबंधित लेनदेन को रोकने के लिये नियम बनाने चाहिए। यह देश के युवाओं के भविष्य को नुकसान पहुंचा रहा है।

उन्होंने कहा कि ‘‘अमेजन द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर मारिजुआना जैसे अवैध पदार्थ बेचने के मामले सामाने आये हैं और कंपनी के खिलाफ मध्य प्रदेश में भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। सरकार को मामले की गहराई से जांच करनी चाहिए और दोषियों को सजा देनी चाहिए।’’ 

उन्होंने कहा कि शक्तिशाली बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिये कोई शिथिलता नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ई-कॉमर्स कंपनियों ने पारंपरिक व्यापारियों के बाजारों को खा लिया है और कैट उनके द्वारा खडी की गई चुनौती को स्वीकार करने के लिये तैयार है। गोयल ने कहा कि हम अमेजन और अन्य ई कामर्स कंपनियों को अपने युवाओं के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड नहीं करने दे सकते।

उन्होंने मांग की कि सरकार को ऑनलाइन लेनदेन पर नजर रखने के लिये एक तंत्र विकसित करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि ‘‘दुकान से किया गया कोई भी लेनदेन सत्यापित होता है लेकिन ऑनलाइन मंच के जरिये लेनदेन की कोई विश्वसनीयता नहीं है। जूता आर्डर करने पर ईंट की डिलिवरी मिलती है। लोगों को ऑनलाइन ठगा जाता हैं जिसका कोई निवारण नहीं है।’’ 

Write a comment
bigg boss 15