1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. डॉलर से भर गया देश का खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड 633.558 बिलियन डॉलर पर पहुंचा

डॉलर से भर गया देश का खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड 633.558 बिलियन डॉलर पर पहुंचा

RBI ने इससे पहले बुधवार को कहा था कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 23 अगस्त, 2021 को भारत को SDR 12.57 बिलियन (नवीनतम विनिमय दर पर लगभग 17.86 बिलियन अमरीकी डालर के बराबर) का आवंटन किया था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: September 03, 2021 19:35 IST
डॉलर से भर गया देश का खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड 633.558 बिलियन डॉलर पर पहुंचा- India TV Paisa
Photo:AP

डॉलर से भर गया देश का खजाना, विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड 633.558 बिलियन डॉलर पर पहुंचा

नई दिल्ली: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार नए रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने इसे लेकर आज नए आंकड़े जारी किए है। आंकड़ों के अनुसार 27 अगस्त को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 16.663 बिलियन अमरीकी डॉलर बढ़कर 633.558 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया, जिसका मुख्य कारण विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) होल्डिंग्स में वृद्धि है। वहीं सोने का भंडार 192 मिलियन अमरीकी डॉलर बढ़कर 37.441 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया। आईएमएफ के साथ देश की आरक्षित स्थिति समीक्षाधीन सप्ताह में 14 मिलियन अमरीकी डालर बढ़कर 5.11 बिलियन अमरीकी डालर हो गई है।

RBI ने इससे पहले बुधवार को कहा था कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 23 अगस्त, 2021 को भारत को SDR 12.57 बिलियन (नवीनतम विनिमय दर पर लगभग 17.86 बिलियन अमरीकी डालर के बराबर) का आवंटन किया था। एसडीआर होल्डिंग्स किसी देश के विदेशी मुद्रा भंडार का हिस्सा हैं। आईएमएफ अपने सदस्यों को फंड में उनके मौजूदा कोटा के अनुपात में सामान्य एसडीआर आवंटन करता है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, 27 अगस्त, 2021 को समाप्त समीक्षाधीन सप्ताह में, देश की SDR होल्डिंग 17. 866 बिलियन अमरीकी डॉलर बढ़कर 19. 407 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गई। 20 अगस्त, 2021 को समाप्त हुए पिछले सप्ताह में भारत की विदेशी मुद्रा किटी 2.47 बिलियन अमरीकी डॉलर घटकर 616 अमरीकी डॉलर हो गई थी।

आंकड़ों से पता चलता है कि समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां (एफसीए), समग्र भंडार का एक प्रमुख घटक 1.409 अरब अमेरिकी डॉलर घटकर 571.6 अरब अमेरिकी डॉलर रह गई। डॉलर के संदर्भ में व्यक्त, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे गए यूरो, पाउंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी इकाइयों की सराहना या मूल्यह्रास का प्रभाव शामिल है। 

Write a comment
Click Mania