1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सेबी के दरवाजे पर पहुंची Future और Amazon की लड़ाई, किशोर बियानी ने पत्र लिखकर कही ये बात

सेबी के दरवाजे पर पहुंची Future और Amazon की लड़ाई, किशोर बियानी ने पत्र लिखकर कही ये बात

फ्यूचर ग्रुप के संस्थापक किशोर बियानी ने सेबी से आग्रह किया है कि इस प्रस्तावित सौदे की समीक्षा तेजी से की जाए और अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी किया जाए।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 30, 2020 10:16 IST
Future, Amazon continue letter fight; Write to SEBI over Future-Reliance deal- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Future, Amazon continue letter fight; Write to SEBI over Future-Reliance deal

नई दिल्‍ली। अमेजन (Amazon) और फ्यूचर ग्रुप (Future Group) के बीच पत्र युद्ध जारी है। दोनों ने ही फ्यूचर-रिलायंस के बीच 24,713 करोड़ रुपये संपत्ति बिक्री सौदे में एक-दूसरे से उलट आग्रहों के साथ भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) को पत्र लिखा है।

फ्यूचर ग्रुप के संस्‍थापक किशोर बियानी ने सेबी से आग्रह किया है कि इस प्रस्तावित सौदे की समीक्षा तेजी से की जाए और अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी किया जाए। वहीं अमेजन ने कहा है कि इस प्रस्तावित सौदे की समीक्षा को स्थगित किया जाए। कर्ज के बोझ से दबी किशोर बियानी समूह की कंपनी फ्यूचर ग्रुप ने अपने खुदरा, थोक, लॉजिस्टिक्स और भंडारण इकाइयों की बिक्री  अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी की रिलायंस को करने के लिए इस साल अगस्त में करार किया था। यह सौदा 24,713 करोड़ रुपये में हुआ था।

अमेजन ने इस सौदे का विरोध करते हुए अमेजन ग्रुप को सिंगापुर अंतरराष्ट्रीय पंचाट केंद्र (एसआईएसी) में मध्यस्थता में घसीटा था। फ्यूचर समूह की कंपनी फ्यूचर रिटेल लि. (एफआरएल) ने इस मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय में अपील की थी। न्यायालय ने इसी महीने अपने आदेश में कहा था कि अमेजन को फ्यूचर-रिलायंस रिटेल सौदे को लेकर सांविधिक प्राधिकरण के पास जाने का अधिकार है। हालांकि, इसके साथ ही अदालत ने यह भी निष्कर्ष दिया था कि अमेजन का गैर-सूचीबद्ध इकाई के साथ करार के जरिये एफआरएल को नियंत्रित करने का प्रयास फेमा और एफडीआई नियमों का उल्लंघन होगा। उच्च न्यायालय ने नियामकीय प्राधिकरणों को इस सौदे पर नियम और नियमनों के तहत फैसला करने की अनुमति दी है।

एफआरएल ने 23 दिसंबर को सेबी को पत्र लिखकर जल्द से जल्द अनापत्ति प्रमाणपत्र पर फैसला करने को कहा है। वहीं अमेजन ने 21 दिसंबर को सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी को पत्र लिखकर कहा है कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने अमेजन के खिलाफ आदेश देने से इनकार किया है। साथ ही अदालत ने यह व्यवस्था दी है कि एसआईएसी का अंतरिम आदेश भारतीय कानून के तहत वैध है। यह इस मामले में सेबी को अमेजन का पांचवां पत्र है। 

फ्यूचर समूह की कंपनियों को रिलायंस से मिले बड़े ऑर्डर, लॉन्‍च होंगे दो नए ब्रांड

फ्यूचर समूह की कंपनियों को रिलायंस इंडस्ट्रीज से बड़े ऑर्डर मिलने शुरू हो गए हैं। कंपनी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) किशोर बियानी ने मंगलवार को अपने कर्मचारियों को भेजे ई-मेल में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि समूह की कंपनियों फ्यूचर कंज्यूमर और फ्यूचर एंटरप्राइजेज को हाल में रिलायंस इंडस्ट्रीज से ऑर्डर मिले हैं। इससे नकदी संकट से जूझ रही फ्यूचर समूह की कंपनियों को काफी मदद मिलेगी।

बियानी ने ई-मेल में कहा कि हमें रिलायंस से बड़े ऑर्डर मिले हैं। भविष्य के कदम पर उन्होंने कहा कि समूह दो नए ब्रांडों पर विचार कर रहा है, जिसके तहत फैशन और एफएमसीजी में कई श्रेणियों में उत्पादों की पेशकश की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस पर काफी काम चल रहा है। ये ब्रांड मार्च तक स्टोर में दिखाई देंगे।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X