1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. देश के इस हिस्से में पेट्रोल 102 रुपये प्रति लीटर के पार, जानिये कहां मिल रहा सबसे महंगा तेल

देश के इस हिस्से में पेट्रोल 102 रुपये प्रति लीटर के पार, जानिये कहां मिल रहा सबसे महंगा तेल

शुक्रवार को लगातार चौथा दिन रहा है जब तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाये हैं। चार दिन की वृद्धि में पेट्रोल के दाम 88 पैसे और डीजल के दाम में एक रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हो चुकी है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: May 07, 2021 15:34 IST
तेल कीमतों में बढ़त...- India TV Hindi
Photo:PTI

तेल कीमतों में बढ़त जारी

नई दिल्ली। तेल कंपनियों के द्वारा लगातार चौथे दिन पेट्रोल, डीजल के दाम बढ़ाने से राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में पेट्रोल का दाम 102 रुपये प्रति लीटर की ऊंचाई तक पहुंच चुका है। बढ़त के इस दौर से पहले दो सप्ताह से अधिक समय तक तेल कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक शुक्रवार को पेट्रोल के दाम में 29 पैसे और डीजल के दाम में 31 पैसे प्रति लीटर की तेज वृद्धि की गई। 

कहां मिल रहा सबसे महंगा पेट्रोल

4 दिन की बढ़त के दिल्ली में पेट्रोल का खुदरा मूल्य 91.27 रुपये प्रति लीटर हो गया जबकि डीजल का दाम 81.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। 
वहीं राजस्थान के गंगानगर जिले में इस वृद्धि के बाद पेट्रोल का दाम 102.15 रुपये लीटर पर पहुंच गया। तेल कंपनियों के मूल्य चार्ट में यह दर्शाया गया है। 
वहीं मध्य प्रदेश के अनूपपुर में पेट्रोल का दाम 101.86 रुपये लीटर हो गया है जबकि महाराष्ट्र के परभनी में यह 99.95 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच चुका है। 
इस साल यह दूसरा मौका है जब देश के कुछ हिस्सों में पेट्रोल का दाम 100 रुपये प्रति लीटर से ऊपर निकल गया। इससे पहले फरवरी मध्य में पेट्रोल का दाम इस आंकड़े से ऊपर निकला था। 

क्यों हैं ईंधन के अलग अलग दाम

ईंधन के खुदरा दाम अलग अलग राज्यों में भिन्न होते हैं। राज्यों में मूल्य वर्धित कर (वैट) की दर और माल पहुंचाने का भाड़ा अलग होना इसकी मुख्य वजह होती है। देश में राजस्थान में पेट्रोल पर सबसे अधिक वैट लगता है, उसके बाद मध्य प्रदेश का स्थान आता है। 

कैसी रही है बीते दिनों पेट्रोल और डीजल की चाल
शुक्रवार को लगातार चौथा दिन रहा है जब तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाये हैं। वहीं इससे पहले विधानसभा चुनावों के दौरान 18 दिन तक इनके दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया। चार दिन की वृद्धि में पेट्रोल के दाम 88 पैसे और डीजल के दाम में एक रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हो चुकी है। इस वृद्धि से 24 मार्च से लेकर 15 अप्रैल के बीच दाम में जो कमी आई थी वह समाप्त हो चुकी है। इस दौरान तेल कंपनियों ने पेट्रोल का दाम 67 पैसे और डीजल के दाम में 74 पैसे प्रति लीटर की कटौती की थी। तेल कंपनियों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का दाम लगातार ऊंचा बना हुआ है। कच्चे तेल का दाम 70 डालर प्रति बैरल के आसपास चल रहा है।

यह भी पढ़ें: अपने आधार को बनाएं और सुरक्षित, घर बैठे मिनटों में नंबर करें लॉक या अनलॉक

यह भी पढ़ें: कोविड संकट से मुकाबले के लिए मिली स्वदेशी 'तेजस' की मदद, जानिये कैसे बचेंगी जिंदगियां

 

 

Latest Business News