1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Petrol & Diesel Price: 6 दिन बाद तेजी पर लगा ब्रेक, 10 दिन में 1.30 रुपए/लीटर महंगा हुआ पेट्रोल

Petrol & Diesel Price: 6 दिन बाद तेजी पर लगा ब्रेक, 10 दिन में 1.30 रुपए/लीटर महंगा हुआ पेट्रोल

तूफान के चलते अमेरिकी तेल उत्पादकों द्वारा तेल का उत्पादन बंद करने की वजह से तेल के दाम में तेजी का रुख बना हुआ है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 26, 2020 9:59 IST
petrol, diesel price remain stable today on wednesday- India TV Paisa
Photo:AMAR UJALA

petrol, diesel price remain stable today on wednesday

नई दिल्‍ली। पेट्रोल के दाम में छह दिनों से हो रही रोजाना वृद्धि पर बुधवार को ब्रेक लग गया। हालांकि आगे पेट्रोल और डीजल के दाम में फिर बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है, क्योंकि अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में लगातार तीसरे दिन तेजी का रुख बना हुआ था। इस तेजी के बाद बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव 46 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर चला गया है। तेल विपणन कंपनियों ने बुधवार को पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं किया। इससे एक दिन पहले पेट्रोल के दाम में दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में 11 पैसे, जबकि चेन्नई में नौ पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल की कीमत बिना किसी बदलाव के क्रमश: 81.73 रुपए, 83.24 रुपए, 88.39 रुपए और 84.73 रुपए प्रति लीटर बनी हुई है। चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी पूर्ववत क्रमश: 73.56 रुपए, 77.06 रुपए, 80.11 रुपए और 78.86 रुपए प्रति लीटर पर स्थिर बनी हुई है।

पेट्रोल के दाम में बीते 10 दिनों में सिर्फ एक दिन को छोड़ बाकी नौ दिन बढ़ोतरी की गई है, जिसके बाद देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 1.30 रुपए प्रति लीटर महंगा हो गया है।

अंतरराष्‍ट्रीय वायदा बाजार इंटर कांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के नवंबर डिलीवरी अनुबंध में पिछले सत्र से 0.12 फीसदी की तेजी के साथ 46.41 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। जबकि अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट यानी डब्ल्यूटीआई के अक्टूबर डिलीवरी वायदा अनुबंध में बीते सत्र से महज 0.05 फीसदी की बढ़त के साथ 43.47 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। तूफान के चलते अमेरिकी तेल उत्पादकों द्वारा तेल का उत्पादन बंद करने की वजह से तेल के दाम में तेजी का रुख बना हुआ है।

Write a comment