1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सहारा कंप्यूटर्स के मालिक गुप्ता बंधुओं पर दक्षिण अफ्रीका में बड़ी कार्रवाई, बैंक खाते से 13 लाख डॉलर जब्त

सहारा कंप्यूटर्स के मालिक गुप्ता बंधुओं पर दक्षिण अफ्रीका में बड़ी कार्रवाई, बैंक खाते से 13 लाख डॉलर जब्त

दक्षिण अफ्रीका के केंद्रीय बैंक ने गुप्ता के स्वामित्व वाली कंपनी सहारा कंप्यूटर्स के बैंक खाते से 13 लाख डॉलर से अधिक की राशि जब्त की है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 02, 2021 12:50 IST
सहारा कंप्यूटर्स के...- India TV Paisa
Photo:AP

सहारा कंप्यूटर्स के मालिक गुप्ता बंधुओं पर दक्षिणी अफ्रीका में बड़ी कार्रवाई, बैंक खाते से 13 लाख डॉलर जब्त

जोहानिसबर्ग। दक्षिण अफ्रीका के केंद्रीय बैंक ने गुप्ता के स्वामित्व वाली कंपनी सहारा कंप्यूटर्स के बैंक खाते से 13 लाख डॉलर से अधिक की राशि जब्त की है। दक्षिण अफ्रीकी रिजर्व बैंक (एसएआरबी) के डिप्टी गवर्नर कुबेन नायडू ने सरकार के राजपत्र में एक नोटिस प्रकाशित कर इसकी जानकारी दी। नोटिस में बताया गया कि नेडबैंक में स्थित खाते में जमा राशि और उसपर मिले ब्याज को सरकार के द्वारा जब्त किया जाता है। एसएआरबी ने कंपनी के एक स्थानीय बैंक खाते से लगभग 200 लाख रैंड यानी 13 लाख डॉलर जब्त किये। 

पढ़ें-  भारत के सभी बैंकों के लिए आ गई ये सिंगल एप, ICICI बैंक ने किया कमाल

पढ़ें- ATM मशीन को बिना छुए निकाल सकते हैं पैसा, इस सरकारी बैंक ने शुरू की सुविधा

सहारा कंप्यूटर्स गुप्ता बंधुओं ‘अजय, अतुल और राजेश’ के द्वारा शुरू की गयी पहली बड़ी आईटी कंपनी थी। गुप्ता मूल रूप से उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले हैं। वे 1990 के दशक में नेल्सन मंडेला के नेतृत्व में दक्षिण अफ्रीका में लोकतंत्र की शुरुआत में बस गये। अपनी सफलता के चरम पर सहारा कंप्यूटर, दक्षिण अफ्रीका की प्रमुख आईटी आपूर्तिकर्ताओं में से एक थी। कंपनी के पास उस समय देश के शीर्ष तीन क्रिकेट स्टेडियमों में नामकरण अधिकार था और ब्रांड एंबेसडर के रूप में खेल व मनोरंजन के कई प्रमुख व्यक्ति उससे जुड़े थे। 

पढें-  SBI में सिर्फ आधार की मदद से घर बैठे खोलें अकाउंट, ये रहा पूरा प्रोसेस

पढें-  Amazon के नए 'लोगो' में दिखाई दी हिटलर की झलक, हुई फजीहत तो किया बदलाव

गुप्ता परिवार अब दुबई में आत्म-निर्वासन में है। दक्षिण अफ्रीका सरकारी संस्थानों से अरबों रैंड की चपत लगाने के मामले में उनकी कथित भूमिका को लेकर पूछताछ करने के लिये प्रत्यर्पण का प्रयास कर रहा है। गुप्ता बंधुओं का कारोबार खनन से लेकर मीडिया तक फैला हुआ था। वर्ष 2016 में कई अनियमित सौदों की जानकारी सामने आने के बाद दक्षिण अफ्रीका के बैंकों ने गुप्ता परिवार की कंपनियों के साथ कारोबार करने से मना कर दिया। गुप्ता के ऊपर आरोप है कि वे पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा के साथ घनिष्ठ संबंधों के जरिये अरबों रैंड की चपत लगाने में शामिल थे। पूर्व राष्ट्रपति जुमा भी अभी आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं। 

Write a comment
bigg boss 15