1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इस्पात कंपनियों ने सितंबर 2020 से अब तक 1.43 लाख टन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की

इस्पात कंपनियों ने सितंबर 2020 से अब तक 1.43 लाख टन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की

सार्वजनिक क्षेत्र की स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लि., राष्ट्रीय इस्पात निगम लि. और निजी क्षेत्र की टाटा स्टील, आर्सेलर मित्तल, जेएसडब्ल्यू स्टील, जिंदल स्टील एंड पावर, वेदांता ईएसएल ऑक्सीजन की ऑपूर्ति कर रही हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 25, 2021 15:35 IST
इस्पात कंपनियों ने...- India TV Paisa
Photo:PTI

इस्पात कंपनियों ने की 1.43 लाख टन ऑक्सीजन की सप्लाई

नई दिल्ली। इस्पात कंपनियों ने देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए 1.43 लाख टन तरल मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) की आपूर्ति की है। इस्पात मंत्रालय द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, सितंबर, 2020 से 22 अप्रैल, 2021 तक सार्वजनिक और निजी क्षेत्र सहित इस्पात उद्योग ने 1,43,876.28 टन एलएमओ की आपूर्ति की है। इनमें इस्पात क्षेत्र के केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों का हिस्सा 39,805.73 टन रहा है। 

निजी क्षेत्र की जिन कंपनियों ने आपूर्ति की है उनमें टाटा स्टील, आर्सेलर मित्तल, निप्पन स्टील इंडिया (एएमएनएस इंडिया), जेएसडब्ल्यू स्टील, जिंदल स्टील एंड पावर लि. (जेएसपीएल) और वेदांता ईएसएल शामिल हैं। वहीं सार्वजनिक क्षेत्र की स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लि. (सेल) और राष्ट्रीय इस्पात निगम लि.(आरआईएनएल) ने भी ऑक्सीजन की आपूर्ति की है। इस्पात संयंत्रों से ऑक्सीजन की आपूर्ति महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, दिल्ली, मध्य प्रदेश और अन्य राज्यों को की गई है। 

टाटा स्टील ने बृहस्पतिवार को कहा था कि वह विभिन्न राज्यों को प्रतिदिन 300 टन एलएमओ की आपूर्ति कर रही है। इस बीच, एएमएनएस इंडिया ने अपनी दैनिक आपूर्ति को बढ़ाकर 210 टन कर दिया है। जेएसडब्ल्यू और जेएसपीएल ने कहा है कि वे प्रतिदिन क्रमश: 185 और 100 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति कर रही हैं। आरआईएनएल ने कहा है कि वह प्रतिदिन 100 टन एलएमओ की आपूर्ति कर रही है। सेल ने बृहस्पतिवार को ट्वीट कर कहा था कि वह प्रतिदिन औसतन 600 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति कर रही है। सभी कंपनियां अपनी ऑक्सीजन आपूर्ति बढ़ाने का प्रयास कर रही हैं। 

इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ‘‘मैं इस समय साथ आने के लिए सभी इस्पात कंपनियों का आभार जताता हूं। ये कंपनियां देश के लिए चौबीसों घंटे सातों दिन काम कर रही हैं। हम कोविड महामारी का मुकाबला मिलकर करेंगे।’’ 

Write a comment
X