ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दिल्ली से जयपुर, चंडीगढ़ 2 घंटे से भी कम में, जानिये तेज रफ्तार सफर के लिये सरकार की योजना

दिल्ली से जयपुर, चंडीगढ़ 2 घंटे से भी कम में, जानिये तेज रफ्तार सफर के लिये सरकार की योजना

गडकरी ने कहा कि बुनियादी ढांचे का विकास देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और उनका लक्ष्य प्रतिदिन 100 किलोमीटर की गति से राजमार्ग का निर्माण करना है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 12, 2021 15:05 IST
घटेगा दिल्ली से...- India TV Paisa
Photo:PTI

घटेगा दिल्ली से जयपुर आने जाने का वक्त

नई दिल्ली। उत्तर भारत में रहने वाले लोगों खास तौर पर दिल्ली एनसीआर में रहने वाले लोगों का सफर आने वाले समय मे काफी आसान और तेज होने जा रहा है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक अगले एक साल से कम वक्त में दिल्ली से आस पास के क्षेत्रों को तेज रफ्तार हाइवे से जोड़ दिया जायेगा, जिससे बेहद कम वक्त में लोग एक जगह से दूसरी जगह सफर कर सकेंगे। केन्द्रीय मंत्री ने ये जानकारी सीआईआई के कार्यक्रम में दी।

कब से शुरु होगा तेज रफ्तार सफर

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी की माने तो अगले 6 महीने में दिल्ली से जयपुर सिर्फ डेढ़ घंटे में पहुंचा जा सकेगा। वहीं एक साल के अंदर दिल्ली से चंडीगढ़ सिर्फ 2 घंटे में पहुंचा जा सकेगा। इसके साथ ही केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि एक साल के भीतर हाइवे के विकास से दिल्ली से देहरादून 2 घंटे में, दिल्ली से हरिद्वार 2 घंटे मे पहुंचा जा सकेगा। इसकी मदद से दिल्ली से होकर गुजरने वाले यात्रियों का भी समय काफी बचेगा। 

अगले 1 साल में लागू हो जाएगा जीपीएस टोल कलेक्शन वाला सिस्टम
गडकरी ने कहा कि देश में फिलहाल जीपीएस के जरिए टोल वसूली वाली टेक्नोलॉजी नहीं है। लेकिन सरकार ऐसी टेक्नोलॉजी डेवलप करने की दिशा में लगातार काम कर रही है। उन्होंने इसी साल मार्च में कहा था कि सरकार जल्द ही टोल बूथ खत्म कर देगी। एक साल में उसकी जगह पूरी तरह जीपीएस से चलने वाला टोल कलेक्शन सिस्टम लागू कर दिया जाएगा। सरकार के मुताबिक इस कदम से भी लोगों का समय बचेगा क्योंकि उन्हें टोल देने के लिये रुकना नहीं पड़ेगा। 

हर दिन 100 किलोमीटर सड़क बनाने का लक्ष्य
गडकरी ने कहा कि बुनियादी ढांचे का विकास देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और उनका लक्ष्य प्रतिदिन 100 किलोमीटर की गति से राजमार्ग का निर्माण करना है। जिससे एक जगह से दूसरी जगह पहुंचने में वक्त और पैसे की बर्बादी कम से कम की जा सके। उद्योग संगठन सीआईआई की वार्षिक बैठक को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि देरी से या निर्णय न लेना देश में एक बड़ी समस्या है।

Write a comment
elections-2022