1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. खाने-पीने का सामान महंगा होने से थोक महंगाई दर नवंबर में बढ़कर 0.58% रही, बीते 3 महीने में पहली बार हुआ इजाफा

खाने-पीने का सामान महंगा होने से थोक महंगाई दर नवंबर में बढ़कर 0.58% रही, बीते 3 महीने में पहली बार हुआ इजाफा

थोक मूल्य सूचकांक (WPI) के आधार पर नवंबर में थोक महंगाई दर बढ़कर 0.58 प्रतिशत महंगाई दर रही। बीते तीन महीने में पहली बार इजाफा हुआ है।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: December 16, 2019 13:06 IST
Wholesale Price Index November 2019- India TV Paisa

Wholesale Price Index November 2019

नई दिल्ली। खाद्य वस्तुओं की कीमतों में तेजी से थोक मूल्य आधारित मुद्रास्फीति नवबंर महीने में बढ़कर 0.58 प्रतिशत पर पहुंच गयी। अक्टूबर में यह 0.16 प्रतिशत पर थी। बीते अक्टूबर में 0.16 प्रतिशत, सितंबर में 0.33 प्रतिशत और अगस्त में 1.17 प्रतिशत थोक महंगाई दर थी। बीते तीन महीने में पहली बार इजाफा हुआ है। मासिक थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति नवंबर 2018 में 4.47 प्रतिशत पर थी।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के सोमवार को जारी आंकड़े के मुताबिक, खाने-पीने के सामान की मुद्रास्फीति अक्टूबर में 9.80 प्रतिशत से बढ़कर नवंबर 2019 के दौरान 11 प्रतिशत पर पहुंच गई। वहीं, गैर-खाद्य उत्पाद वर्ग की मुद्रास्फीति अक्टूबर में 2.35 प्रतिशत से कम होकर नवंबर में 1.93 प्रतिशत रह गई।

विनिर्मित उत्पाद के लिए थोक मुद्रास्फीति इस महीने भी शून्य से 0.84 प्रतिशत नीचे रही। उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते आए आंकड़ों के मुताबिक, प्याज सहित अन्य सब्जियों, दाल और मांस, मछली जैसी प्रोटीन वाली वस्तुओं के दाम चढ़ने से नवंबर माह में खुदरा मुद्रास्फीति की दर बढ़कर 5.54 प्रतिशत पर पहुंच गई थी। यह इसका तीन साल का उच्चस्तर है।  

Write a comment
bigg-boss-13