1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. विप्रो का पहली तिमाही में मुनाफा 35% बढ़कर 3243 करोड़ रुपये, आय 22% बढ़ी

विप्रो का पहली तिमाही में मुनाफा 35% बढ़कर 3243 करोड़ रुपये, आय 22% बढ़ी

जून तिमाही में विप्रो का कंसोलिडेटेड प्रॉफिट बढ़कर 3242.6 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं मार्च तिमाही के मुकाबले मुनाफे में 9 प्रतिशत की बढ़त रही है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: July 15, 2021 18:12 IST
विप्रो का पहली...- India TV Hindi News
Photo:WIPRO

विप्रो का पहली तिमाही मुनाफा 35% बढ़ा

नई दिल्ली। आईटी सर्विस कंपनी विप्रो ने आज अपने जून में खत्म हुई तिमाही के नतीजे जारी कर दिये हैं। कंपनी के मुताबिक उसके कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट में पिछले साल के मुकाबले 35 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है। जून तिमाही में प्रॉफिट बढ़कर 3242.6 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं मार्च तिमाही के मुकाबले मुनाफे में 9 प्रतिशत की बढ़त रही है। मार्च तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड प्रॉफिट 2972 करोड़ रुपये के स्तर पर था। कंपनी के नतीजे बाजार के जानकारों के अनुमानों से बेहतर रहे हैं। 

विप्रो ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसकी ऑपरेशन से आय जून 2021 तिमाही में 22.3 प्रतिशत बढ़कर 18,252.4 करोड़ रुपये रही। एक साल पहले 2020-21 की इसी तिमाही में उसकी आय 14,913.1 करोड़ रुपये थी। अपना ज्यादातर कारोबार आईटी सेवाओं से प्राप्त करने वाली विप्रो ने कहा कि उसे अगली तिमाही (जुलाई-सितंबर) में आय 253.5 करोड़ डॉलर से 258.3 करोड़ डॉलर के दायरे में रहने का अनुमान है। यानी आय में तिमाही आधार पर 5 से 7 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद है। 

विप्रो की आईटी सर्विस सेग्मेंट में आय 2021-22 की पहली तिमाही में 241.45 करोड़ डॉलर रही। यह तिमाही आधार पर 12.2 प्रतिशत और सालाना आधार पर 25.7 प्रतिशत अधिक है। कंपनी ने जून तिमाही के लिये आय में 2 से 4 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान जताया था। विप्रो के सीईओ और प्रबंध निदेशक थियेरी डेलपोर्टे ने कहा कि महामारी के गंभीर संकट के बावजूद, हमारा प्रदर्शन तिमाही के दौरान अच्छा रहा। ‘‘आय में तिमाही आधार पर 12.2 प्रतिशत की वृद्धि हमारे अनुमान के दायरे से काफी आगे रही ।’’ उन्होंने कहा कि कंपनी ग्राहकों के साथ बेहतर संबंध के साथ आने वाले समय में प्रतिभाओं और क्षमता विकास में निवेश करती रहेगी। कंपनी की आईटी सेवा से जुड़े वर्कफोर्स की संख्या 2 लाख से ऊपर 2,09,890 पहुंच गयी। 

 

यह भी पढ़ें: पेट्रोल और डीजल में जल्द राहत की उम्मीद,ओपेक देशों से मिले संकेत

यह भी पढ़ें: यहां 22 प्रतिशत तक बढ़ सकती है आपकी रकम, दिग्गजों ने दी है निवेश की सलाह

Latest Business News

Write a comment