1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सिटी बैंक पर होगा इस भारतीय बैंक का कब्जा, जल्द होगी अधिग्रहण सौदे की घोषणा

सिटी बैंक पर होगा इस भारतीय बैंक का कब्जा, जल्द होगी अधिग्रहण सौदे की घोषणा

सूत्रों ने बताया कि यह सौदा संभवत: 2.5 अरब डॉलर (लगभग 18,000 करोड़ रुपये) में होगा और इसके लिए नियामक मंजूरी लेना पड़ेगी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: March 30, 2022 18:12 IST
Citibank- India TV Paisa
Photo:FILE

Citibank

Highlights

  • एक्सिस बैंक ने सिटीग्रुप के क्रेडिट कार्ड, खुदरा बैंकिंग, ग्राहक ऋण और संपत्ति प्रबंधन कारोबार का अधिग्रहण कर लिया है
  • एक्सिस बैंक ने सिटीग्रुप के भारत में उपभोक्ता बैंक कारोबार का 12,325 करोड़ रुपये में खरीदा
  • अधिग्रहण के साथ एक्सिस बैंक के पास सिटी बैंक के करीब 30 लाख ग्राहक आ जाएंगे

नयी दिल्ली। निजी क्षेत्र के एक्सिस बैंक ने सिटीग्रुप के क्रेडिट कार्ड, खुदरा बैंकिंग, ग्राहक ऋण और संपत्ति प्रबंधन समेत भारत में उपभोक्ता बैंक कारोबार का 12,325 करोड़ रुपये में अधिग्रहण कर लिया है। बैंक ने बुधवार को यह घोषणा की। इस अधिग्रहण के साथ एक्सिस बैंक के पास सिटी बैंक के करीब 30 लाख ग्राहक आ जाएंगे। वहीं क्रेडिट कार्ड का पोर्टफोलियो 31 प्रतिशत बढ़ जाएगा। एक्सिस बैंक ने एक बयान में कहा कि सौदे से उसे 18 शहरों में सात कार्यालय, 21 शाखाएं और 499 एटीएम प्राप्त होंगे।

सिटी बैंक के उपभोक्ता कारोबार से जुड़े करीब 3,600 कर्मचारियों को एक्सिस बैंक में लिया जाएगा। अमेरिका के बैंक सिटीग्रुप ने वैश्विक रणनीति के तहत अप्रैल, 2021 में भारत में ग्राहक बैंक कारोबार से हटने की घोषणा की थी। बैंक के कारोबार में क्रेडिट कार्ड, खुदरा बैंकिंग, आवास ऋण और संपत्ति प्रबंधन शामिल हैं। बैंक की 35 शाखाएं हैं और उपभोक्ता बैंक कारोबार में करीब 4,000 कर्मचारी हैं।

सिटीग्रुप ने 1902 में भारत में कदम रखा था और 1985 में बैंक कारोबार शुरू किया। भारत में सिटीग्रुप संस्थागत बैंक कारोबार के अलावा मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, चेन्नई और गुरुग्राम स्थित केंद्रों से प्रदान किए जाने वाले वैश्विक व्यापार समर्थन पर ध्यान देता रहेगा। 

रेलिगेयर फिनवेस्ट भुगतान में चूकी

रेलिगेयर एंटरप्राइजेज की कर्ज के बोझ से दबी अनुषंगी रेलिगेयर फिनवेस्ट लि. 28 मार्च को गैर-परिवर्तनीय डिबेंचरों (एनसीडी) के लिए ब्याज भुगतान से चूक गई है। रेलिगेयर एंटरप्राइजेज ने मंगलवार को यह जानकारी दी है। रेलिगेयर एंटरप्राइजेज ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि कंपनी 2.41 करोड़ रुपये के ब्याज का भुगतान करने से चूक गई है। इसकी वजह से चार निवेशकों को अपने ब्याज से वंचित होना पड़ेगा।

Write a comment
erussia-ukraine-news