1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सर्वे: रोजगार के मोर्चे पर अच्छी खबर, नौ क्षेत्रों में नौकरियों की संख्या दो लाख बढ़ी

सर्वे: रोजगार के मोर्चे पर अच्छी खबर, नौ क्षेत्रों में नौकरियों की संख्या दो लाख बढ़ी

ये आंकड़े कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बाद राज्यों द्वारा लॉकडाउन प्रतिबंधों को हटाने के चलते आर्थिक गतिविधियों में हुए सुधार को दर्शाते हैं।

India TV Tech Desk Edited by: India TV Tech Desk
Published on: January 10, 2022 12:59 IST
रोजगार के मोर्चे पर...- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

रोजगार के मोर्चे पर अच्छी खबर

Highlights

  • 3.10 करोड़ रही नौ क्षेत्रों में रोजगार की संख्या जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान
  • 02 लाख अधिक है रोजगार की संख्या अप्रैल-जून 2021 के मुकाबले
  • 10 या अधिक कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों को शामिल किया गया सर्वे में

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच रोजगार बाजार की स्थिति में सुधार हुआ है। श्रम मंत्रालय द्वारा सोमवार को जारी तिमाही रोजगार सर्वेक्षण के अनुसार नौ चयनित क्षेत्रों में कुल रोजगार की संख्या जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान बढ़कर 3.10 करोड़ रही, जो अप्रैल-जून के मुकाबले दो लाख अधिक है। श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने श्रम ब्यूरो द्वारा तैयार तिमाही रोजगार सर्वेक्षण (क्यूईएस) को जारी किया, जिसके मुताबिक अप्रैल से जून, 2021 में नौ चयनित क्षेत्रों में कुल रोजगार की संख्या 3.08 करोड़ थी। 

आर्थिक गतिविधियों में सुधार से बढ़े नए मौके

ये आंकड़े कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बाद राज्यों द्वारा लॉकडाउन प्रतिबंधों को हटाने के चलते आर्थिक गतिविधियों में हुए सुधार को दर्शाते हैं। ये नौ क्षेत्र विनिर्माण, निर्माण, व्यापार, परिवहन, शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास और रेस्टोरेंट, आईटी / बीपीओ (बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग) और वित्तीय सेवाएं हैं। यह इस कड़ी की दूसरी रिपोर्ट है। पहली रिपोर्ट अप्रैल-जून 2021 की थी। इस अध्ययन में 10 या अधिक कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों को शामिल किया गया। यादव ने रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि इन अध्ययनों से सरकार को साक्ष्य आधारित नीति बनाने में मदद मिलेगी।

कोरोना के बाद तेजी से बढ़ी थी बेरोजगारी 

कोरोना महामारी के आने के बाद से देश में तेजी से बेरोजगारी बढ़ी थी। इसकी वजह लॉकडाउन के चलते उद्योग और बाजार बंद होना था। लेकिन अब हालात में तेजी से सुधार आया है। कोरोना की तीसरी लहर के कारण आने वाले कुछ समय में हालात खाराब होने की आंशका है लेकिन उसके बाद स्थिति और बेहतर होने की उम्मीद है। वहीं, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी की रिपोर्ट के अनुसार 31 दिसंबर तक भारत की कुल बेरोजगारी 7.31% थी. इसमें शहरी बेरोजगारी 7.9% और ग्रामीण बेरोजगारी 7% थी। 

Write a comment
erussia-ukraine-news