1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मार्केट एक्सपर्ट बता रहे हैं कैसी रहेगी अगले हफ्ते शेयर बाजार की चाल और किन शेयरों में आएगी हलचल

मार्केट एक्सपर्ट बता रहे हैं कैसी रहेगी अगले हफ्ते शेयर बाजार की चाल और किन शेयरों में आएगी हलचल

मिश्रा ने कहा कि अन्य घटनाक्रमों के अलावा बाजार की उम्मीदें बजट पर भी टिकी हैं। साथ ही वैश्विक संकेतक और कोविड-19 के नए स्वरूप ओमीक्रोन से जुड़ी खबरें भी बाजार पर असर डालेंगी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: January 16, 2022 11:48 IST
शेयर बाजार- India TV Paisa
Photo:FILE

शेयर बाजार

Highlights

  • निवेशकों की निगाह रिलायंस, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज ऑटो, जेएसडब्ल्यू स्टील जैसी कुछ शीर्ष कंपनियों पर रहेगी
  • कंपनियों के तिमाही नतीजों के अलावा शेयर बाजार की उम्मीदें आम बजट पर भी टिकी हैं
  • साथ ही वैश्विक संकेतक और कोविड-19 के नए स्वरूप ओमीक्रोन से जुड़ी खबरें भी बाजार पर असर डालेंगी

नई दिल्ली। शेयर बाजारों की चाल इस सप्ताह कुछ बड़ी कंपनियों के दिसंबर, 2021 की तीसरी तिमाही के नतीजों से तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। सप्ताह के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर और बजाज फाइनेंस सहित कुछ अन्य कंपनियां अपने तीसरी तिमाही के नतीजों की घोषणा करेंगी। विश्लेषकों ने कहा कि इसके अलावा कोविड-19 की स्थिति, वैश्विक बाजार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) के निवेश का रुख, रुपये-डॉलर का उतार-चढ़ाव और ब्रेंट कच्चे तेल के दाम भी बाजार को दिशा देंगे। 

नतीजों का सीजन रफ्तार पकड़ेगा

रेलिगेयर ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष-शोध अजित मिश्रा ने कहा, इस सप्ताह तिमाही नतीजों का सीजन रफ्तार पकड़ेगा। बाजार भागीदारों की निगाह रिलायंस, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज ऑटो, जेएसडब्ल्यू स्टील, बजाज फाइनेंस, एशियन पेंट्स, हिंदुस्तान यूनिलीवर जैसी कुछ शीर्ष कंपनियों के आमदनी के ब्योरे पर रहेगी। इससे पहले सोमवार को बाजार एचसीएल टेक्नोलॉजीज और एचडीएफसी बैंक के तिमाही नतीजों पर प्रतिक्रिया देगा। मिश्रा ने कहा कि अन्य घटनाक्रमों के अलावा बाजार की उम्मीदें बजट पर भी टिकी हैं। साथ ही वैश्विक संकेतक और कोविड-19 के नए स्वरूप ओमीक्रोन से जुड़ी खबरें भी बाजार पर असर डालेंगी। 

वैश्विक बाजार का असर संभव

स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, कई क्षेत्रों में बजट-पूर्व कदम शुरू हो गए हैं। यह इस सप्ताह भी जारी रहेंगे। वैश्विक बाजार कुछ अस्थिरता दिखा रहे हैं जिसका यहां भी असर पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि कोविड के मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन अस्पताल में भर्ती होने की संख्या और मृत्यु दर बहुत कम है। इसलिए बाजार ज्यादा चिंतित नहीं है। तीसरी तिमाही के नतीजों, वैश्विक संकेतकों और बजट-पूर्व उम्मीदों के बीच बाजार में उतार-चढ़ाव रह सकता है। सप्ताह के दौरान सिएट और बजाज फिनसर्व के तिमाही नतीजे भी आने हैं। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि इस सप्ताह घरेलू बाजार तिमाही नतीजों पर ध्यान देगा। बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र मुख्य केंद्र में रहेंगे। इसके अलावा बाजार की दिशा कोविड-19 से जुड़े घटनाक्रमों से भी तय होगी। 

शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बढ़ा 

सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 2,34,161.58 करोड़ रुपये का जोरदार उछाल आया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) सबसे अधिक लाभ में रहीं। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,478.38 अंक या 2.47 प्रतिशत चढ़ा। समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 69,503.71 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 17,17,265.94 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस, भारतीय स्टेट बैंक और भारती एयरटेल का स्थान रहा। 

Write a comment
erussia-ukraine-news