Friday, May 17, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. अब हेलीकॉप्टर से करें आदि कैलाश और ओम पर्वत की यात्रा, 1 लाख भी नहीं होगा खर्च, जानिए डिटेल

अब हेलीकॉप्टर से करें आदि कैलाश और ओम पर्वत की यात्रा, 1 लाख भी नहीं होगा खर्च, जानिए डिटेल

अगर आप ट्रैकिंग करके आदि कैलाश और ओम पर्वत नहीं जा सकते, तो हेलीकॉप्टर की मदद ले सकते हैं। थॉमस कुक इंडिया इन दोनों स्थानों के लिए हेलीकॉप्टर जर्नी शुरू कर रहा है।

Pawan Jayaswal Edited By: Pawan Jayaswal
Updated on: April 10, 2024 19:03 IST
आदि कैलाश हेलीकॉप्टर...- India TV Paisa
Photo:FILE आदि कैलाश हेलीकॉप्टर यात्रा

देश में आध्यात्मिक पर्यटन की मांग बढ़ने के बीच थॉमस कुक इंडिया (Thomas Cook India) और उसकी समूह कंपनी एसओटीसी ट्रैवल (SOTC Travel) ने उत्तराखंड में आदि कैलाश और ओम पर्वत के हेलीकॉप्टर दर्शन की पेशकश की है। कंपनी ने बुधवार को इस संबंध में उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के साथ साझेदारी की घोषणा की। इस पांच-दिवसीय आध्यात्मिक यात्रा की कीमत 90,000 रुपये प्रति यात्री रखी गई है। इस पर उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड की तरफ से सब्सिडी दी जाती है। इस आध्यामिक यात्रा (Spiritual Journey) का आधार शिविर उत्तराखंड में स्थित पिथौरागढ़ होगा।

हर ग्रुप में होंगे 14 लोग

दूसरे दिन से दर्शन का सिलसिला शुरू होगा। दूसरे दिन मनोकामना मंदिर के दर्शन और तीसरे दिन आदि कैलाश (Adi Kailash) एवं ओम पर्वत (Om Parvat) के दर्शन कराए जाएंगे। इस यात्रा के हरेक समूह में 14 लोग शामिल होंगे। थॉमस कुक इंडिया ने बयान में कहा कि इस पैकेज में आदि कैलाश और ओम पर्वत के लिए हेलीकॉप्टर से दर्शन की सुविधा, पार्वती सरोवर मंदिर जाने के लिए एक एटीवी (सभी तरह की सतह पर चलने वाला वाहन) और खानपान शामिल हैं।

100% की दर से बढ़ा आध्यात्मिक पर्यटन

थॉमस कुक (इंडिया) लिमिटेड के अध्यक्ष एवं कंट्री प्रमुख (छुट्टियां, वीजा) राजीव काले ने कहा, "हमारा उद्देश्य अभी तक कम सामने आए पवित्र स्थलों को उजागर कर भारत में आध्यात्मिक पर्यटन को नए सिरे से परिभाषित करना है।'' थॉमस कुक और एसओटीसी के आंकड़े बताते हैं कि देश में आध्यात्मिक पर्यटन सालाना आधार पर 100 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है।

ट्रिप टू टेम्पल्स भी दे रहा यह सुविधा

आदि कैलाश और ओम पर्वत के लिए एक हेलीकॉप्टर यात्रा ट्रिप टू टेम्पल्स द्वारा भी चलाई जा रही है। यह यात्रा 1 अप्रैल से शुरू हुई है। परंपरागत रूप से आदि कैलाश में भगवान शिव और पार्वती की दिव्य उपस्थिति या ओम पर्वत के विस्मयकारी प्राकृतिक दृश्य की तलाश करने वाले तीर्थयात्रियों को कठिन ट्रैक से विवश होकर गुजरना पड़ता था और उन तक पहुंचने के लिए कई दिनों तक पैदल चलना पड़ता था। इस यात्रा के लिए बुकिंग ओपन है। ग्राहक ट्रिप टू टेम्पल्स की वेबसाइट पर जाकर बुकिंग करा सकते हैं।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement