Thursday, April 18, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. एशिया की सबसे बड़ी ‘स्लम क्लस्टर’ धारावी के झुग्गी-बस्ती वाले को मिलेगा बड़ा फ्लैट, आई ये जानकारी

एशिया की सबसे बड़ी ‘स्लम क्लस्टर’ धारावी के झुग्गी-बस्ती वाले को मिलेगा बड़ा फ्लैट, आई ये जानकारी

ग्रुप की ओर से जारी बयान के अनुसार, नए फ्लैट में रसोई और शौचालय होंगे। इससे पहले अनौपचारिक बस्तियों के निवासियों को 269 Square feet के मकान दिए जाते थे। राज्य सरकार ने उन्हें 2018 से 315-322 Square feet के मकान देना शुरू किए थे।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: January 15, 2024 18:35 IST
धारावी- India TV Paisa
Photo:FILE धारावी
अडाणी ग्रुप धारावी झुग्गी-बस्ती के पात्र निवासियों को 350 Square feet के नए फ्लैट की पेशकश करेगा। अडाणी समूह महाराष्ट्र सरकार के सहयोग से धारावी झोपड़पट्टी का पुनर्विकास कर रहा है। ग्रुप ने दावा किया कि इन फ्लैट का आकार झुग्गी पुनर्विकास परियोजनाओं के तहत प्रस्तावित आकार से ‘17 प्रतिशत अधिक’ है। ग्रुप की ओर से जारी बयान के अनुसार, नए फ्लैट में रसोई और शौचालय होंगे। इससे पहले अनौपचारिक बस्तियों के निवासियों को 269 Square feet के मकान दिए जाते थे। राज्य सरकार ने उन्हें 2018 से 315-322 Square feet के मकान देना शुरू किए थे। अडाणी ग्रुप ने नवंबर, 2022 में एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी-बस्ती के पुनर्निर्माण का ठेका हासिल किया था।
 

5,069 करोड़ रुपये के निवेश से बोली जीती थी

अडाणी समूह ने नवंबर, 2022 में 5,069 करोड़ रुपये के शुरुआती इक्विटी निवेश के साथ धारावी के पुनर्विकास के लिए महाराष्ट्र सरकार की तरफ से आयोजित निविदा हासिल की थी। धारावी एशिया की सबसे बड़ी झोपड़पट्टी है। इस परियोजना के वित्तपोषण के बारे में आई मीडिया रिपोर्टों के बारे में पूछे जाने पर एक जानकार सूत्र ने कहा कि निविदा की शर्तें बहुत स्पष्ट हैं और परियोजना के वित्तपोषण के लिए कोई कर्ज नहीं लिया जा सकता है। ऐसी स्थिति में समूह आंतरिक स्रोतों के अलावा नवीन वित्तीय साधनों पर ध्यान देगा। हालांकि, सूत्र ने कहा कि अभी ऐसी स्थिति नहीं आई है कि बाजार से वित्तपोषण किया जाए। सूत्रों ने कहा कि अडाणी समूह ने धारावी के समृद्ध व्यवसायों और उद्यमियों को ध्यान में रखते हुए मानव-केंद्रित दृष्टिकोण के साथ इस बड़ी झुग्गी बस्ती के पुनर्विकास की परिकल्पना की है। इसका उद्देश्य न केवल क्षेत्र के निवासियों की आजीविका की रक्षा करना है बल्कि उनके कौशल को भी बढ़ाना है। 
 

हफीज कॉन्ट्रैक्टर, दो अन्य को जोड़ा

धारावी के पुनर्विकास की परियोजना हासिल करने वाले अडाणी ग्रुप ने एशिया की सबसे बड़ी ‘स्लम क्लस्टर’ के पुनर्विकास का मसौदा तैयार करने के लिए हफीज कॉन्ट्रैक्टर समेत तीन शहरी नियोजकों की सेवाएं ली हैं। अडाणी समूह को वर्ष 2022 में महाराष्ट्र सरकार ने धारावी पुनर्विकास परियोजना आवंटित की थी। समूह ने पहले चरण में 21,000 करोड़ रुपये का निवेश करने का वादा किया है। अडाणी समूह ने बयान में कहा कि इस परियोजना के लिए शहरी एवं बुनियादी ढांचा क्षेत्र के मशहूर वास्तुकार कॉन्ट्रैक्टर, डिजाइन फर्म ससाकी और सलाहकार फर्म बुरो हैपोल्ड को अपने साथ जोड़ा है। इसके साथ सिंगापुर आवास विकास बोर्ड के कुछ विशेषज्ञ भी इस परियोजना का हिस्सा बनाए गए हैं। कॉन्ट्रैक्टर शहरी क्षेत्र में क्रांतिकारी सामाजिक आवास और झुग्गी पुनर्वास परियोजनाओं के लिए जाने जाते हैं। वहीं ससाकी अमेरिका की एक डिजाइन फर्म है जबकि बुरो हैपोल्ड ब्रिटेन की एक अंतरराष्ट्रीय सलाहकार फर्म है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement