Wednesday, February 28, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. बच्चों के लिए जल्द मिल सकती है कोरोना की सिंगल वैक्सीन! Sputnik M भारत लाने की तैयारी में डॉ रेड्डीज

बच्चों के लिए जल्द मिल सकती है कोरोना की सिंगल वैक्सीन! Sputnik M भारत लाने की तैयारी में डॉ रेड्डीज

रूस की सिंगल खुराक COVID-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल डेटा नियामक को प्रस्तुत कर दिया गया है और अनुमोदन की प्रतीक्षा कर रहा है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: January 28, 2022 18:40 IST
Sputnik- India TV Paisa
Photo:PTI

Sputnik

Highlights

  • 12 से 18 साल की उम्र के किशारों को भी जल्द कोरोना से बचाव का टीका मिल सकता है
  • 12 से 18 साल की श्रेणी के लिए रूस के स्पुतनिक एम, एक COVID-19 वैक्सीन लाने की कोशिश में Dr Reddy's
  • COVID-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल डेटा प्रस्तुत कर दिया गया है

हैदराबाद। भारत में 12 से 18 साल की उम्र के किशारों को भी जल्द कोरोना से बचाव का टीका मिल सकता है। दवा निर्माता कंपनी डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज ने शुक्रवार को कहा कि वह भारत में 12 से 18 साल की श्रेणी के लिए रूस के स्पुतनिक एम, एक COVID-19 वैक्सीन लाने के लिए भारतीय दवा नियामक के साथ चर्चा कर रही है। 

कंपनी ने तीसरी तिमाही के परिणामों की घोषणा के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि रूस की सिंगल खुराक COVID-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल डेटा नियामक को प्रस्तुत कर दिया गया है और अनुमोदन की प्रतीक्षा कर रहा है।

दीपक सपरा के सीईओ- एपीआई और सर्विसेज डॉ. रेड्डीज ने यह भी कहा कि कंपनी अपनी फैक्ट्री में एक COVID-19 दवा मोलनुपिरवीर बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसके लिए उसने दवा की प्रीक्वालिफिकेशन के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन से संपर्क किया है।

उन्होंने कहा कि "रूस में, स्पुतनिक एम को 12 से 18 साल के बच्चों के लिए नियामक द्वारा मंजूरी दी गई है। वही डेटा यहां उपलब्ध कराया गया है। हम इसे यहां लाने की प्रक्रिया में हैं।"

उन्होंने आगे कहा कि अगर भारतीय नियामक ऐसा कहता है तो कंपनी शायद भारत में एक और दौर का क्लिनिकल परीक्षण कर सकती है। रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) ने पिछले महीने कहा था कि उसने स्पुतनिक एम के पंजीकरण के लिए भारतीय नियामक के पास मंजूरी के लिए आवेदन किया है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement