1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. BSE व NSE ने निवेशकों को किया सतर्क, अनचाहे संदेशों के लालच में फंसकर न करें पैसे निवेश

BSE व NSE ने निवेशकों को किया सतर्क, अनचाहे संदेशों के लालच में फंसकर न करें पैसे निवेश

शेयर बाजारों ने कहा कि वे इस तरह के ईमेल की सत्यता या वास्तविकता का पता लगा रहे हैं और निवेशकों को इनसे सतर्क रहना चाहिए।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 21, 2020 15:32 IST
BSE, NSE caution mkt participants against unsolicited messages- India TV Paisa
Photo:MEDIUM

BSE, NSE caution mkt participants against unsolicited messages

नई दिल्‍ली। देश के प्रमुख शेयर बाजारों बीएसई और एनएसई ने विभिन्न सूचीबद्ध कंपनियों के संबंध में भेजे जाने वाले अनचाहे संदेशों के प्रति निवेशकों को सतर्क किया है। शेयर बाजार के एक अधिकारी ने बताया कि कुछ सूचीबद्ध कंपनियों के बारे में एसएमएस और व्हाट्सएप के जरिये ऐसे संदेश प्रसारित किए जाने के बाद यह कदम उठाया गया है।

दोनों शेयर बाजारों ने गुरुवार देर रात एक समान परिपत्र में कहा कि हाल के दिनों में शेयर बाजार को कई ऐसे ईमेल मिले हैं, जो विभिन्न सूचीबद्ध कंपनियों के संदर्भ में प्रसारित अवांछित संदेशों का हवाला दे रहे हैं। शेयर बाजारों ने कहा कि वे इस तरह के ईमेल की सत्यता या वास्तविकता का पता लगा रहे हैं और निवेशकों को इनसे सतर्क रहना चाहिए।

आईबीएम, एनएसडीसी ने मुफ्त डिजिटल कौशल प्रशिक्षण देने के लिए किया समझौता

आईबीएम और राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) ने शुक्रवार को एक मुफ्त डिजिटल शिक्षा मंच की शुरुआत की है, जो नई प्रौद्योगिकियों तथा पेशेवर कौशल विकास पर केंद्रित है। इस गठजोड़ के तहत आईबीएम ओपेन पी-टेक’ मंच से ऑनलाइन पाठ्यक्रम तैयार करेगा और एनएसडीसी के ई-स्किल इंडिया पोर्टल के जरिये इसकी पेशकश की जाएगी। इस पहल से देश के युवाओं को अपना भविष्य बनाने के लिए विभिन्न कौशल को सीखने में मदद मिलेगी।

आईबीएम द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक इस साझेदारी के तहत आईबीएम अपने 30 से अधिक ओपेन पी-टेक पाठ्यक्रमों को ई-स्किल इंडिया पोर्टल पर सूचीबद्ध करेगी, जिनकी प्रशिक्षण अवधि 60 घंटे से अधिक है। इस पहल के तहत 18 से 22 साल के युवाओं को साइबर सिक्योरिटी, ब्लॉकचेन, कृत्रिम मेघा और मशीन लर्निंग, क्लाउड, इंटरनेट ऑफ थिंग्स जैसी उभरती हुई तकनीकों के बारे में नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। एनएसडीसी के प्रबंध निदेशक और सीईओ मनीष कुमार ने कहा कि डिजिटल शिक्षा से रोजगार के क्षेत्र में महिलाओं और युवाओं की भागीदारी बढ़ेगी।

Write a comment
X