1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. ब्‍याज दर घटने की उम्‍मीद में सेंसेक्स 465 अंक उछला, निफ्टी ने छुआ 10,886 अंक का स्‍तर

ब्‍याज दर घटने की उम्‍मीद में सेंसेक्स 465 अंक उछला, निफ्टी ने छुआ 10,886 अंक का स्‍तर

निवेशकों की लिवाली निकलने से निजी क्षेत्र के यस बैंक का शेयर आज 3.86 प्रतिशत के उछाल के साथ सबसे आगे रहा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 15, 2019 18:13 IST
sensex- India TV Paisa
Photo:SENSEX

sensex

मुंबई। निवेशकों की घटे भाव पर प्रमुख शेयरों में लिवाली निकलने से बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स में आज 465 अंक का उछल दर्ज किया गया। खुदरा मुद्रास्फीति का आंकड़ा नीचे आने से रिजर्व बैंक की आगामी मौद्रिक समीक्षा में ब्याज दरों में कटौती की उम्मीद से बाजार में निवेशकों का उत्साह बढ़ा है। इसके साथ ही वैश्विक बाजारों से भी मजबूती के संकेत हैं। 

निवेशकों की लिवाली निकलने से निजी क्षेत्र के यस बैंक का शेयर आज 3.86 प्रतिशत के उछाल के साथ सबसे आगे रहा। इसके बाद इंफोसिस का शेयर मूल्य 3.66 प्रतिशत और वेदांता का शेयर मूल्य 3.03 प्रतिशत बढ़ गया। रिलायंस इडस्ट्रीज लिमिटेड में 3.02 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई, जबकि टीसीएस का शेयर मूल्य 2.74 प्रतिशत बढ़ गया। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स आज 464.77 अंक यानी 1.30 प्रतिशत बढ़कर 36,318.33 अंक पर पहुंच गया, जबकि व्यापक आधार वाला निफ्टी सूचकांक 149.20 अंक यानी 1.39 प्रतिशत बढ़कर 10,886.80 अंक पर बंद हुआ। 

खुदरा मुद्रास्फीति दिसंबर 2018 में 2.19 प्रतिशत पर आ गई। यह पिछले 18 माह का न्यूनतम स्तर है। इससे रिजर्व बैंक की अगले महीने होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा में मुख्य दर में कटौती की उम्मीद बंधी है जिससे ब्याज दरें सस्ती हो सकतीं हैं। इसी प्रकार थोक मुद्रास्फीति का आंकड़ा भी दिसंबर माह में घटकर 3.80 प्रतिशत रह गया। यह इसके आठ माह का निम्न स्तर है। इन आंकड़ों को लेकर निवेशकों में उम्मीद जगी है। 

बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स में शामिल शेयरों में बजाज फाइनेंस, भारती एयरटेल, टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प, हिन्दुस्तान युनिलीवर, एशियन पेंट्स, एचडीएफसी, एचडीएफसी लिमिटेड और ओएनजीसी के शेयर मूल्य में 2.87 प्रतिशत तक की मजबूती रही। हालांकि, तेजी के इस दौर में भी मारुति लिमिटेड, पावरग्रिड और आईसीआईसीआई बैंक के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। 

आशिका समूह के इक्विटी शोध प्रमुख पारस बोथरा ने कहा कि सभी क्षेत्रों के शेयरों में खरीदारी का जोर रहा। खासतौर से ब्याज दरों से जुड़े कंपनियों के शेयरों में तेजी का रुख रहा। ब्याज दरों में कटौती की उम्मीद इस आशय से भी बढ़ी है कि औद्योगिक उत्पादन सूचकांक में नवंबर माह में गिरकर 0.5 प्रतिशत रह गया। दूसरी तरफ खुदरा मुद्रास्फीति में लगातार छठवें महीने गिरावट का रुख रहा और यह 2.19 प्रतिशत रह गई।  

इसके साथ ही यूरोपीय और अन्य एशियाई बाजारों में तेजी का भी धारणा से सकारात्मक रुख रहा। एशियाई बाजारों में कोरिया का कोस्पी सूचकांक 1.58 प्रतिशत, शंघाई कंपाजिट सूचकांक 1.36 प्रतिशत, हांग कांग का हेंग सेंग 2.02 प्रतिशत और जापान का निक्केई सूचकांक 0.96 प्रतिशत बढ़ गया। यूरोप, फ्रेंकफुर्ट का डीएएक्स 0.41 प्रतिशत बढ़ गया। 

Write a comment
coronavirus
X