1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. सोमवार से शेयर बाजार में तेजी या मंदी? RBI पॉलिसी, गुजरात और हिमाचल चुनाव में BJP का प्रदर्शन डालेंगे ये असर

सोमवार से शेयर बाजार में तेजी या मंदी? RBI पॉलिसी, गुजरात और हिमाचल चुनाव में BJP का प्रदर्शन डालेंगे ये असर

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, निवेशक बेसब्री से विधानसभा चुनावों के नतीजों का इंतजार कर रहे हैं।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: December 04, 2022 11:54 IST
सोमवार से शेयर बाजार...- India TV Paisa
Photo:FILE सोमवार से शेयर बाजार में तेजी या मंदी

भारतीय रिजर्व बैंक के ब्याज दरों पर निर्णय से इस सप्ताह मुख्य रूप से स्थानीय शेयर बाजारों की दिशा तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। उनका कहना है कि इसके अलावा वैश्विक रुझान और विदेशी कोषों की गतिविधियां भी बाजार को दिशा देंगी। बाजार निवेशकों की निगाह सप्ताह के दौरान गुजरात और हिमाचल राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजों पर भी रहेगी। जानकारों का कहना है कि शेयर बाजार निवेशकों की नजर आरबीआई की मौ​द्रिक पॉलिसी, दो राज्यों में बीजेपी के पक्ष में परिणाम पर रहेगी। अगर आरबीआई ब्याज दरों में मामूली बढ़ोतरी करता है और दोनों राज्यों में बीजेपी की सरकार फिर से बनती है तो बाजार में बंपर तेजी देखने को मिल सकती है। 

बाजार में उतार-चढ़ाव बना रहेगा

स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट लि. के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, वैश्विक संकेतों की वजह से बाजार में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। हालांकि, बाजार भागीदारों की निगाह घरेलू संकेतकों मसलन रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के नतीजों तथा गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों के नतीजों पर भी रहेगी। विधानसभा चुनावों के नतीजे आठ दिसंबर को आएंगे। मीणा ने कहा कि वैश्विक मोर्चे पर अमेरिका में बॉन्ड पर प्रतिफल और डॉलर इंडेक्स में गिरावट आई है और आगे बाजार की इसपर भी नजर होगी। वृहद आर्थिक मोर्चे पर सोमवार को सेवा क्षेत्र के लिए खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई)के आंकड़े आएंगे। 

विधानसभा चुनावों के नतीजों पर सबकी नजर 

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, निवेशक बेसब्री से विधानसभा चुनावों के नतीजों का इंतजार कर रहे हैं। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 574.86 अंक या 0.92 प्रतिशत के लाभ में रहा। सैमको सिक्योरिटीज में बाजार परिदृश्य प्रमुख अपूर्व सेठ का मानना है कि इस सप्ताह शेयर बाजारों के लिए सबसे बड़ा घटनाक्रम रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा है। कोटक सिक्योरिटीज लि.के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट-तकनीकी अनुसंधान अमोल अठावले ने कहा कि बाजार के लिए आगे दो प्रमुख घटनाक्रम रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा और दिसंबर के मध्य में होने वाली फेडरल रिजर्व की बैठक है। इनसे तय होगा कि निकट भविष्य में निवेशकों का ‘मूड’ कैसा रहने वाला है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही ब्रेंट कच्चे तेल के दाम और रुपये का उतार-चढ़ाव भी बाजार की दिशा के लिए महत्वपूर्ण रहेगा।

आरबीआई की बैठक पर भी नजर 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि बाजार की दिशा रिजर्व बैंक की मौद्रिक बैठक के नतीजे से तय होगी। नायर ने कहा कि ऊंचे मूल्यांकन, फेडरल रिजर्व की बैठक और चीन में कोविड अंकुशों की वजह से आगामी सप्ताहों में बाजार में काफी उतार-चढ़ाव रहेगा। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के खुदरा शोध प्रमुख दीपक जसानी ने कहा कि सात दिसंबर को रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा बैठक के नतीजों से पता चलेगा कि आगे देश में ब्याज दरों का रुख कैसा रहने वाला है। 

Latest Business News