Sunday, April 14, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. फायदे की खबर
  4. मोटरसाइकिल और कार चलाने वालों का 5000 रुपए का कटेगा चालान, मंत्रालय की चेतावनी

मोटरसाइकिल और कार चलाने वालों का 5000 रुपए का कटेगा चालान, मंत्रालय की चेतावनी

मंत्रालय ने 5000 रुपए के चालान काटने को लेकर बड़ी चेतावनी जारी की है। मोटरसाइकिल और कार चलाने वालों के अलावा सभी तरह के वाहनों के लिए यह जानकारी जारी की गई है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: June 29, 2021 7:38 IST
मोटरसाइकिल और कार से चलाने वालों का 5000 रुपए का कटेगा चालान, मंत्रालय की चेतावनी- India TV Paisa

मोटरसाइकिल और कार से चलाने वालों का 5000 रुपए का कटेगा चालान, मंत्रालय की चेतावनी

नई दिल्ली: मंत्रालय ने 5000 रुपए के चालान काटने को लेकर बड़ी चेतावनी जारी की है। मोटरसाइकिल और कार चलाने वालों के अलावा सभी तरह के वाहनों के लिए यह जानकारी जारी की गई है। मंत्रालय ने कहा है कि अगर आपने बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाई तो 5000 रुपये का जुर्माना या जेल जाने को तैयार रहें। ऐसे में चलान से बचने के लिए वाहन चलाते समय हमेशा संबंधित दस्तावेज साथ रखें। 

इसके अलावा दूहहिया वाहन चलाने वालों के लिए भी चेतावनी में मंत्रालय ने कहा कि आपका लापरवाह दोस्त मोटरसाइकिल पर आपके पीछे बैठकर आपके 1000 रुपये खर्च करा सकता है। मंत्रालय ने ऐसा हेलमेट ना पहनने वालों के लिए कहा है। हेलमेट नहीं पहनने वाले सवारों पर 1000 रुपये का जुर्माना लग सकता है और आपका ड्राइविंग लाइसेंस भी मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 194 सी के तहत तीन महीने की अवधि के लिए अयोग्य हो सकता है।

यातायात नियमों का पालन करें

Image Source : TRANSPORT MINISTRY
यातायात नियमों का पालन करें

इसके साथ ही सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्रालय के अनुसार कभी भी शराब पीकर गाड़ी न चलाएं, इसके परिणामस्वरूप पहली बार अपराध करने पर 6 महीने तक की कैद और/या 10000 तक का जुर्माना और दूसरी बार अपराध करने पर 2 साल की कैद और/या 15000 का जुर्माना हो सकता है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के अनुसार, सात जून से 13 जून तक कुल 48,412 जारी किए गए जिनमें से 48,311 ऑनलाइन और 101 हाथोंहाथ जारी किए गए। यातायात पुलिस ने आठ जून को जारी एक अधिसूचना में राष्ट्रीय राजमार्ग, रिंग रोड और एयरपोर्ट मार्ग जैसे रास्तों पर कार और टैक्सी के लिए 60-70 किलोमीटर प्रति घंटा तथा बाजार और आवासीय क्षेत्रों में 30 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार तय की थी। गति सीमा से अधिक रफ्तार पर वाहन चलाने वालों के लिए मुख्य रूप से दो प्रकार से चालान जारी किया जाता है।

यातायात नियमों का पालन करें

Image Source : TRANSPORT MINISTRY
यातायात नियमों का पालन करें

ट्रैफिक नियमों की लिस्ट देखें

अपराध

पहले चालान या जुर्माना

अब चालान या जुर्माना

सामान्य (177)

100 रूपये

500 रूपये

रेड रेगुलेशन नियम का उल्लंघन (177A)

100 रूपये

500 रूपये

अथॉरिटी के आदेश की अवहेलना (179)

500 रूपये

2000रूपये

अनाधिकृत गाड़ी बिना लाइसेसं चलाना (180)

1000रूपये

5000 रूपये

अयोग्यता के बावजूद ड्राइविंग (182)

500 रूपये

10000 रूपये

बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाना (181)

500रूपये

5000 रूपये

ओवर साइज वाहन (182B)

 

5000 रूपये

ओवर स्पीडिंग (183)    

400 रूपये

1000 रूपये

खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाना(184)

1000 रूपये

5000 रूपये

शराब पीकर गाड़ी चलाना (185)

2000रूपये

10000 रूपये

रेसिंग और तेज़ गति से गाड़ी चलाना (189)

500 रूपये

5000 रूपये

ओवर लोडिंग (194)

2  हज़ार रूपये और 10000 रूपये प्रति टन अतिरिक्त

20 हज़ार रूपये और 2 हज़ार रूपये प्रति टन

सीट बेल्ट (194B)

100 रूपये

1000 रूपये

बिना पर्मिट के गाड़ी चलाना (192A)

5 हज़ार रूपये तक

10 हज़ार रूपये तक

लाइसेंस कंडीशन का उल्लंघन (193)

कुछ भी नहीं

25 हज़ार रूपये से 1 लाख रूपये तक

पैसेंजर की ओवर लोडिंग (194A)

कुछ भी नहीं

1000 रूपये प्रति पेसेंजर

दोपहिया वाहन पर ओवर लोडिंग

100 रूपये

2 हज़ार रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द

हेलमेट न पहनने पर

100 रूपये

1000 रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस  रद्द

एमरजेंसी वाहन को रास्ता न देने पर (194E)

कुछ भी नहीं

     10000 रूपये

बिना इंशोरेंस के गाड़ी चलाने पर (196)

1000 रूपये

2000 रूपये

दस्तावेज़ों को लगाने की अधिकारियो की शक्ति   (206)

 कुछ भी नहीं

183,184,185,189,190,194c,194D 194Eके तहत ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द किया जायेगा

अधिकारियो को लागू करने से किये गए अपराध (210B)

कुछ भी नहीं

सम्बंधित अनुभाग के तहत दो बार जुर्माना

 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। My Profit News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement