Tuesday, June 11, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. Life Insurance पॉलिसी खरीदते समय इन बातों पर जरूर दें ध्यान, जानें क्या करें और क्या न करें

Life Insurance पॉलिसी खरीदते समय इन बातों पर जरूर दें ध्यान, जानें क्या करें और क्या न करें

अगर आप यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस पॉलिसी (यूएलआईपी) खरीद रहे हैं तो अलग-अलग शुल्क, फंड ऑप्शन, फंड स्विच करने से जुड़े सवाल जरूर पूछें। जब भी आप बीमा पॉलिसी खरीदने के लिए फॉर्म भर रहे हों तो इसे पूरी तरह से और सही जानकारियों के साथ भरें।

Written By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: May 17, 2024 8:55 IST
 लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय प्रपोजल फॉर्म में कोई भी कॉलम खाली न छोड़ें। - India TV Paisa
Photo:FREEPIK लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय प्रपोजल फॉर्म में कोई भी कॉलम खाली न छोड़ें।

आपकी जिंदगी और आपकी कमाई करने की क्षमता आपकी और आपके परिवार की सबसे बड़ी संपत्ति है। जीवन बीमा पॉलिसी आपके जीवनकाल के बाद भी आपके परिवार की देखभाल करने का सबसे अच्छा तरीका है। ऐसे में एक अच्छी बीमा पॉलिसी खरीदने का फैसला करना जरूरी होता है। लेकिन जब कभी भी आप इंश्योरेंस कंपनी की जीवन बीमा पॉलिसी ले रहे हों तो आपको कुछ बातों पर गौर करना चाहिए। इस बात का भी ध्यान रखना जरूरी है कि लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय क्या करें और क्या न करें।  आइए, इन्हीं बातों पर यहां चर्चा करते हैं।

जानें पॉलिसी खरीदते समय क्या करें

क्यों खरीद रहे हैं पॉलिसी और बहुत सारे सवाल पूछें

जब भी आप पॉलिसी खरीदने की सोच रहे हैं तो इस बात पर गौर करें कि आखिर आप बीमा क्यों खरीद रहे हैं और आपकी मुख्य आवश्यकताएं और अपेक्षाएं क्या हैं। फैसला हमेशा खुले दिमाग से करें लेकिन सलाह और जानकारी के बारे में सतर्क रहें। पॉलिसी विकल्पों के बारे में बहुत सारे सवाल पूछें ताकि पता चल सके कि आपकी जरूरतों के लिए क्या सही है। पॉलिसी डिटेल का पता लगाएं। जैसे कि क्या वह सिंगल प्रीमियम या रेगुलर प्रीमियम पॉलिसी है। बीमा नियामक IRDAI के मुताबिक आप यह भी देखें कि आप प्रीमियम सालाना, छमाही या त्रैमासिक में से किस तरह दे सकते हैं। क्या आपके प्रीमियम भुगतान को सुरक्षित और आसान बनाने के लिए कोई ईसीएस (इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग सेवा) पेमेंट ऑप्शन है।

फॉर्म को सावधानी से और व्यक्तिगत रूप से भरें

जब भी आप बीमा पॉलिसी खरीदने के लिए फॉर्म भर रहे हों तो इसे पूरी तरह से और सही जानकारियों के साथ भरें। इतना याद रखें कि आप इसकी सामग्री के लिए जिम्मेदार हैं। आप यह भी सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा दी गई जानकारी को क्लेम के दौरान विवादित नहीं किया जा सकता है। इस बात को लेकर सुनिश्चित करें कि आपने नॉमिनी फॉर्म भी भर दिया है। साथ ही अगर फॉर्म एक भाषा में है और आप किसी दूसरी भाषा में सवालों के उत्तर दे रहे हैं सुनिश्चित करें कि सवाल आपको सही ढंग से समझाए गए हैं और आपने उन्हें पूरी तरह से समझ लिया है। आपको प्रपोजल फॉर्म में इस बात की घोषणा करनी पड़ेगी।

एक प्रति अपने पास रखें

जानकारों का कहना है कि आपके द्वारा सिग्नेचर किया पूरा प्रपोजल फॉर्म की एक प्रति अपने पास जरूर रखें। इसमें आपके रिकॉर्ड के लिए आपसी सहमति से तय की गई कोई भी घोषणा और शर्तें हो सकती हैं। अगर आप यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस पॉलिसी (यूएलआईपी) खरीद रहे हैं तो अलग-अलग शुल्क, फंड ऑप्शन, फंड स्विच करने से जुड़े सवाल जरूर पूछें। यह भी पूछें कि अगर आप पॉलिसी बंद कर देते हैं या सरेंडर कर देते हैं या फंड की आंशिक निकासी करना चाहेंगे तो क्या विकल्प होगा।

पॉलिसी खरीदते समय ये न करें

बीमा नियामक का कहना है कि लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय प्रपोजल फॉर्म में कोई भी कॉलम खाली न छोड़ें। इस बात का विशेष ध्यान रहे कि प्रपोजल फॉर्म किसी और शख्स से न भरवाएं। किसी और को इसे न भरने दें। एक बेहद अहम बात यह है कि बीमा खरीदते समय में किसी भी जानकारी या फैक्ट को न छिपाएं। ऐसा करने से इंश्योरेंस क्लेम करते समय आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। आखिर में ध्यान रहे कि आप अपने बीमा प्रीमियम का भुगतान हमेशा समय पर जरूर करें। इसमें देरी नहीं हो। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement