Live TV
GO
Advertisement
Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थ दिखें ये लक्षण तो न करें...

दिखें ये लक्षण तो न करें इग्नोर, हो सकता है खतरनाक लिवर सिरोसिस

अनियमित खानपान और खराब लाइफस्टाइल के कारण लिवर में अधिक फर्क पड़ता है। जिसके कारण आपको लिवर कैंसर, लिवर एबसेस, फैटी लिवर या फिर लिवर सिरोसिस जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती है। जानें लिवर सिरोसिस के बारें में।

India TV Lifestyle Desk
India TV Lifestyle Desk 01 Apr 2019, 13:27:59 IST

हेल्थ डेस्क: लिवर शरीर में बहुत ही महत्वपूर्म अंग माना जाता है। यह हमारे शरीर के कई महत्वपूर्ण क्रियाओं को कंट्रोल करता है। इसका काम होता है खाना का पचाना, खून की सफाई, मल त्याग में मदद करना और पित्त का उत्पादन करना। लिवर का आमतौर पर वजन 2.5 से 3 पाउंड होता है। अनियमित खानपान और खराब लाइफस्टाइल के कारण लिवर में अधिक फर्क पड़ता है। जिसके कारण आपको लिवर कैंसर, लिवर एबसेस, फैटी लिवर या फिर लिवर सिरोसिस जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती है। जानें लिवर सिरोसिस के बारें में।

क्या है लिवर सिरोसिस?
लिवर सिरोसिस धीमी गति से बढ़ने वाला रोग है। आम भाषा में कहें तो इस रोग में लिवर का आकार सिकुड़ने लगता है और उसमें कठोरता आने लगती है। इस रोग में लिवर की बहुत सारी कोशिकाएं नष्ट हो जाती हैं और उनकी जगह फाइबर तंतु ले लेते हैं। साथ ही लीवर की बनावट भी असामान्य हो जाती है, जिससे पोर्टल हाइपरटेंशन की स्थिति पैदा हो जाती है। इस बीमारी का अंतिम इलाज लीवर प्रत्यारोपण यानि लिवर ट्रांसप्लांट है।  

 

 

लिवर सिरोसिस होने के कारण
इसका मुख्य कारण गंभीर रुप से क्षतिग्रस्त हो जाना या फिर गलत खानपान, एल्कोहाल या फिर स्मोकिंग के कारण होता है। इसके अलावा अधिक वसा वाला भोजन, ज्यादा नॉनवेज का सेवन या कई बार दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण हो जाता है।

liver Cirrhosis

लिवर सोरासिस के लक्षण
सोरासिस के शुरुआती लक्षण नॉर्मल नहीं होते है, लेकिन इन लक्षणों द्वारा काफी हद तक इस समस्या के बारें में जान सकते है।

  • ऊपरी पेट पर खून की कोशिकीएं दिखना।
  • हथेलियां लाल हो जाना।
  • भूख कम लगना।
  • अनिद्रा
  • खुजलीदार स्किन
  • लिवर की जगह छून में दर्द का अहसास होना।
  • दिल की धड़कने तेज रहना।
  • मांसपेशियों के ऐंठन।
  • नाक से खून बहना।
  • दाएं कंधे में दर्द होना।
  • सांस फूलना।
  • उल्टी के साथ-साथ खून आनाष
  • बार-बार संक्रमण के साथ बुखार आ जाना।
  • स्किन का नीला पड़ जाना।
  • टक्कर आना।
  • चलने-फिरने में प्रॉब्लम।
  • आंखे और जीभ का सफेद हो जाना।
  • भ्रम पैदा होना।
  • याददाश्त संबंधी समस्या होना।

अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। जिससे कि आगे चलकर किसी बडी समस्या का सामना न करना पड़े।

इस रेयर बीमारी के कारण महिला को नहीं होता किसी भी तरह का दर्द का अहसास

20 से 30 साल की उम्र के युवा तेजी से हो रहे है एंकायलूजिंग स्पॉन्डिलाइटिस के शिकार, जानें इसके बारें में सबकुछ

दिखें ये लक्षण तो समझ लें कि आपको हो सकता है ब्रेन हेमरेज, तुरंत करें डॉक्टर से संपर्क

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन