ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री के आए अच्‍छे दिन, भारत में बीते वर्ष बिके 33 लाख यात्री वाहन

ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री के आए अच्‍छे दिन, भारत में बीते वर्ष बिके 33 लाख यात्री वाहन

छोटे नगरों कस्बों में वाहनों की बढ़ती मांग तथा उपयोगिता वाहनों की बढ़ी लोकप्रियता के बीच मार्च को समाप्त बीते वित्त वर्ष में देश में यात्री वाहनों की बिक्री रिकार्ड रही। पिछले साल में 7.89% बढोतरी के साथ लगभग 33 लाख वाहन बिके।

Sachin Chaturvedi Written by: Sachin Chaturvedi @sachinbakul
Published on: April 10, 2018 18:45 IST
car- India TV Paisa

car

नयी दिल्ली। छोटे नगरों कस्बों में वाहनों की बढ़ती मांग तथा उपयोगिता वाहनों की बढ़ी लोकप्रियता के बीच मार्च को समाप्त बीते वित्त वर्ष में देश में यात्री वाहनों की बिक्री रिकार्ड रही। पिछले साल में 7.89% बढोतरी के साथ लगभग 33 लाख वाहन बिके। भारतीय वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के आज जारी आंकड़ों के अनुसार वित्तवर्ष 2017-18 में यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री 32,87,965 इकाई रही जो पूर्व वित्त वर्ष (30,47,582 वाहन) की तुलना में 7.89% अधिक है। 

आलोच्य वित्त वर्ष में घरेलू कार बिक्री 3.33 प्रतिशत बढ़कर 21,73,950 इकाई हो गई जो कि 2016 17 में 21,03,847 रही थी। उपयोगिता वाहनों ( यूवी ) की बिक्री इस दौरान 20.97 प्रतिशत बढ़कर 9,21,780 इकाई हो गई जो कि 2016 17 में 7,61,998 इकाई रही थी। हालांकि यात्री वाहनों का निर्यात आलोच्य महीने में 1.51 प्रतिशत घटकर 7,47,287 वाहन रहा जो कि एक साल पहले 7,58,727 रहा था। 

सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने संवाददाताओं से कहा , ‘ हमारे लिए बीता साल काफी सकारात्मक रहा। यात्री बसों के अलावा लगभग हर खंड ने सकारात्मक वृद्धि दर्ज की। यह इस बात का प्रतीक है कि कठिन साल के बावजूद उद्योग जगत ने अच्छा प्रदर्शन किया है। ’ माथुर ने कहा कि बीते वित्त वर्ष में वाहन उद्योग जीएसटी के कार्यान्वयन और बीएस चार उत्सर्जन मानकों को अपनाए जाने असर से प्रभावित रहा। नोटबंदी के बाद के प्रभाव भी दिखे। आंकड़ों के अनुसार घरेलू बाजार में यात्री वाहनों की बिक्री मार्च में 6.38% बढ़कर 3,00,722 इकाई रही। पिछले साल मार्च में यह आंकड़ा 2,82,698 वाहन था। मार्च महीने में कारों की बिक्री 1,91,082 इकाई रही जो मार्च 2017 में 1,90,236 वाहन थी। 

समीक्षावधि में मोटरसाइकिल की बिक्री 25.13% बढ़कर 11,45,221 इकाई रही जो मार्च 2017 में 9,15,259 इकाई थी। जबकि दोपहिया वाहनों की कुल बिक्री मार्च में 18.35% बढ़कर 17,41,649 वाहन रही जो मार्च 2017 में 14,71,636 वाहन थी। इस दौरान वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 24.55% बढ़कर 1,08,681 वाहन रही जो पिछले साल समान अवधि में 87,258 वाहन थी। माथुर ने कहा कि अब छोटे कस्बों व अर्ध शहरी इलाकों से अधिक मांग निकल रही है। अनेक प्रमुख कंपनियां इन बाजारों में पकड़ बनाने की कोशिश कर रही हैं। 

Write a comment
elections-2022