1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कारोबार को कनेक्टिविटी देने में Airtel नंबर 1, सेल्युलर IoT मार्केट के 45% पर कब्जा

कारोबार को कनेक्टिविटी देने में Airtel नंबर 1, सेल्युलर IoT मार्केट के 45% पर कब्जा

 जनवरी 2021 से मार्च 2021 के बीच एन्टर्प्राइज मशीन टू मशीन कैटेगरी में आय का 45.5 प्रतिशत हिस्सा एयरटेल आईओटी का है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 02, 2021 15:34 IST
सेल्युलर IoT मार्केट...- India TV Paisa
Photo:AIRTEL

सेल्युलर IoT मार्केट में सबसे आगे Airtel

नई दिल्ली। एयरटेल भारत के तेजी से बढ़ते हुए एन्टर्प्राइज आईओटी सेग्मेंट की मार्केट लीडर बन गई है। बिजनेस कंसल्टिंग फर्म फ्रॉस्ट एंड सुलिवन की एक रिपोर्ट में ये बात कही गयी है। फर्म की हाल में जारी हुई रिपोर्ट के मुताबिक एन्टर्प्राइज मोबाइल सर्विस रिपोर्ट Q4 2020-21 के मुताबिक सेल्युलर आईटी स्पेस में एयरटेल की हिस्सेदारी करीब आधी है।

फर्म में आईसीटी कंसल्टेंट अभिनव कुमार के मुताबिक जनवरी 2021 से मार्च 2021 के बीच एन्टर्प्राइज मशीन टू मशीन कैटेगरी में आय का 45.5 प्रतिशत हिस्सा एयरटेल आईओटी का है। कैलेंडर वर्ष 2020 से 2023 के बीच भारतीय आईओटी बाजार के 8.8 प्रतिशत के सीएजीआर के साथ बढ़ने का अनुमान है। उनके मुताबिक आईओटी या इंटरनेट ऑफ थिंग्स कंपनियों को आंकड़ों पर आधारित बेहतर फैसले लेने में मदद करती है। एयरटेल आईओटी एक एंड टू एंड प्लेटफॉर्म है जो करोड़ों उपकऱणों और एप्लीकेशन को कनेक्ट और मैनेज करने में सक्षम है। एयरटेल आईओटी फिलहाल 60 लाख आईओटी कनेक्शन को सपोर्ट कर रहा है। इसमें इंडस्ट्रियल एसेट मॉनिटरिंग, स्मार्ट मीटरिंग, व्हीकल टेलिमेट्रिक्स शामिल है। फिलहाल एमजी मोटर, पाइन लैब, पेटीएम, किर्लोस्कर, बीएसईएस, केंट, ब्लैक बग, मेघालय पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन और ओडिशा पावर ट्रांसमिशन कंपनी एयरटेल के आईओटी सॉल्यूशन का इस्तेमाल कर रही हैं।  मेघालय पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन ने एक स्टेटमेंट में कहा कि उनके लिये डिजिटल बदलाव काफी अहम है। और इस कड़ी में राज्य में लगाये गये स्मार्ट मीटर एक बड़ा कदम हैं। हमें इस राह में आगे बढ़ने के लिये जो भी चाहिये तो वो सभी एयरटेल पूरा कर रहा है। एयरटेल के साथ मिलकर राज्य में 2 लाख स्मार्ट मीटर लगाये जायेंगे जिसमें एयरटेल के 5जी रेडी आईओटी सिम होंगे, जो कि उपभोक्ताओं की लागत घटाने और मांग और सप्लाई को बेहतर बनाने में मदद करेंगे। 

एयरटेल बिजनेस के सीईओ अजय चित्कारा ने कहा कि फ्रॉस्ट और सुलिवन की रिपोर्ट आईओटी सेग्मेंट में इनोवेशन पर हमारे जोर को स्थापित करते हैं। हम लगातार इस दिशा में निवेश करते रहेंगे। एयरटेल बिजनेस के साथ करीब 2500 बड़े और 10 लाख उभरते हुई कारोबारी जुड़े हैं।

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price: जारी हुई आज के लिये पेट्रोल और डीजल की कीमतें, जानिये क्या हुआ बदलाव  

यह भी पढ़ें: 4 अगस्त को खुलेंगे कमाई के 4 मौके, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

 

Write a comment
bigg boss 15