1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. BSE इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स को शुरू करने के लिए प्रौद्योगिकी के साथ तैयार

BSE इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स को शुरू करने के लिए प्रौद्योगिकी के साथ तैयार

इसमें पीली धातु में कारोबार ईजीआर के रूप में होगा और इससे एक पारदर्शी हाजिर मूल्य खोज तंत्र विकसित करने में मदद मिलेगी। अभी भारत में सिर्फ गोल्ड डेरिवेटिव्स और गोल्ड ईटीएफ की अनुमति है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: October 03, 2021 23:27 IST
BSE इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स को शुरू करने के लिए प्रौद्योगिकी के साथ तैयार है- India TV Hindi News
Photo:PIXABAY

BSE इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स को शुरू करने के लिए प्रौद्योगिकी के साथ तैयार है

नई दिल्ली: देश का प्रमुख शेयर बाजार बीएसई अपने मंच पर इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स (ईजीआर) शुरू करने के लिए प्रौद्योगिकी के साथ तैयार है। बीएसई के मुख्य व्यवसाय अधिकारी समीर पाटिल ने रविवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि इससे देशभर में पीली धातु के लिए समान मूल्य ढांचा बनाने में मदद मिलेगी। पाटिल ने कहा कि एक्सचेंज जरूरी आंतरिक मंजूरी हासिल करेगा और भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास अपने मंच पर नयी प्रतिभूति श्रेणी शुरू करने को आवेदन करेगा। इससे पहले सेबी के निदेशक मंडल ने मंगलवार को गोल्ड एक्सचेंज के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। 

इसमें पीली धातु में कारोबार ईजीआर के रूप में होगा और इससे एक पारदर्शी हाजिर मूल्य खोज तंत्र विकसित करने में मदद मिलेगी। अभी भारत में सिर्फ गोल्ड डेरिवेटिव्स और गोल्ड ईटीएफ की अनुमति है। वहीं अन्य देशों में सोने के भौतिक कारोबार के लिए हाजिर एक्सचेंज होते हैं। सोने का प्रतिनिधित्व करने वाले उत्पाद को इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड रिसीट्स (ईजीआर) कहा जाएगा और इसे प्रतिभूतियों के रूप में अधिसूचित किया जाएगा। ईजीआर में अन्य प्रतिभूतियों की तरह कारोबार, समाशोधन और निपटान की खूबियां होंगी।

Latest Business News

Write a comment