1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Covid-19 संकट देने वाला चीन कर रहा है ये काम, किया 600 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन का परीक्षण

Covid-19 संकट देने वाला चीन कर रहा है ये काम, किया 600 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन का परीक्षण

सीआरआरसी निगम की छिंगताओ वाहन कंपनी द्वारा तैयार 600 किमी प्रति घंटे वाली हाई-स्पीड मैग्लेव टेस्ट सैंपल ट्रेन का सफल परीक्षण किया गया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 23, 2020 13:14 IST
China's 600 km/h high-speed maglev completes successful trial run- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

China's 600 km/h high-speed maglev completes successful trial run

बीजिंग। कोरोना वायरस संकट के लिए जिम्‍मेदार चीन की सीआरआरसी निगम की छिंगताओ वाहन कंपनी द्वारा तैयार 600 किमी प्रति घंटे वाली हाई-स्पीड मैग्लेव टेस्ट सैंपल ट्रेन का सफल परीक्षण किया गया है। यह चीन की उच्च गति मैग्लेव परिवहन प्रणाली के विकास में एक महत्वपूर्ण सफलता का प्रतीक है। इस बार के परीक्षण में 200 से अधिक प्रोजेक्ट पूरे किए गए। इस कंपनी के मुख्य इंजीनियर ने कहा कि विभिन्न कार्य स्थितियों के परीक्षण में वाहन का निलंबन मार्गदर्शन स्थिर है और परिचालन की स्थिति अच्छी है।

प्रमुख तकनीकी संकेतक डिजाइन आवश्यकताओं को पूरा करते हैं और डिजाइन अपेक्षाओं को पूरा करते हैं। 600 किमी प्रति घंटे वाली हाई-स्पीड मैग्लेव परिवहन प्रणाली विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राष्‍ट्रीय अनुसंधान और विकास कार्यक्रम के उन्नत रेल पारगमन के प्रमुख विशेष विषयों में से एक है।

शांघाई ने कर और शुल्क में कमी करने से विदेशी पूंजीनिवेश को प्रोत्साहित किया

पूर्वी चीन स्थित वित्तीय राजधानी शांघाई ने कर और शुल्क में कमी करने के माध्यम से विदेशी पूंजीनिवेश को प्रोत्साहित किया है। वैश्विक महामारी की स्थिति में विश्व भर में आर्थिक विकास की अनिश्चितता पैदा होने के बावजूद अनेक अंतरराष्‍ट्रीय शीर्ष वित्तीय संस्थानों ने चीन में अधिक निवेश लगाने का फैसला लिया है।

शांघाई के लूच्याच्वी वित्तीय नगर में फ्रांस के पेरिस बैंक ने 38 करोड़ युआन अतिरिक्त पूंजी निवेश किया है। बैंक की चीनी लीमिटेड कंपनी के सीईओ ने कहा कि हमने अपने अतिरिक्त मुनाफा को पूंजीनिवेश के रूप में बदला है। और इससे हम कर और शुल्क बच गए हैं। उधर, जर्मनी की मोटर कंपनी को भी इसी तरीके से अधिक कर और शुल्क की कमी की गयी है। कंपनी के मैनेजर ने कहा कि चीन सरकार ने विदेशी कारोबारों के निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए कर व शुल्क की कमी की है। जिससे विदेशी कारोबारों के लिए बेहत्तरीन वातावरण तैयार किया गया है।

उधर, चीनी कर-वसुली कार्यालय की शांघाई शाखा के अंतरराष्‍ट्रीय कर वसुली विभाग के प्रधान ने बताया कि हम डेटा विश्लेषण के माध्यम से अधिमानी नीतियों का आनंद लेने के लिए विदेशी-निवेशों को अच्छी तरह सेवाएं प्रदान करते हैं। ताकि विदेशी निवेशकों को चीन में दीर्घकाल तक संचालन करने के लिए बेहत्तरीन वातावरण तैयार किया जाए। इस साल के प्रथम तिमाही में शांघाई में लगायी गयी विदेशी पूंजी की मात्रा 4.6 अरब अमेरिकी डॉलर तक रही जो पिछले साल की इसी अवधि से 4.5 प्रतिशत अधिक रही। इसी दौरान 10 बहुराष्ट्रीय कॉपोर्रेट मुख्यालय तथा 5 विदेशी निवेश वाले अनुसंधान एवं विकास केंद्र बढ़ाए गए हैं। 

Write a comment
X