1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की 326.99 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त, ईडी ने कसा शिकंजा

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की 326.99 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त, ईडी ने कसा शिकंजा

अदालती आदेश पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएनबी घोटाले में आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने नीरव मोदी की 329.66 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 08, 2020 18:32 IST
ED, Nirav Modi, fugitive law- India TV Paisa
Photo:PTI FILE PHOTO

ED confiscates over Rs 329 crore assets of Nirav Modi under fugitive law

नई दिल्ली। अदालती आदेश पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएनबी घोटाले में आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने नीरव मोदी की 329.66 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है। जब्त की गयी संपति में नीरव मोदी के मुंबई में चार फ्लैट, अलीबाग में फार्म हाउस, लंदन और दुबई में फ्लैट और जैसलमेर में विंडमिल शामिल हैं। यह संपत्तियां भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम, 2018 (Fugitive Economic Offenders Act, 2018) के तहत जब्‍त की गई हैं। जून में मुबंई अदालत ने 1396 करोड़ रुपए की संपति को जब्त करने का आदेश दिया था।

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नीरव मोदी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने और संपत्तियों को जब्त करने के लिए FEO विशेष अदालत के समक्ष 10 जुलाई 2018 को आवेदन दायर किया था। 48 वर्षीय हीरा कारोबारी नीरव की शेष संपत्तियों को जब्त करने की आगे की प्रक्रिया अभी चल रही है। नीरव मोदी को पिछले साल 5 दिसंबर को इसी अदालत ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था। 

3700 करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले का आरोपी नीरव लंदन की वांड्सवर्थ जेल में है। भारत की अपील पर प्रत्यर्पण वारंट जारी होने के बाद लंदन पुलिस ने नीरव मोदी को पिछले साल 19 मार्च को गिरफ्तार किया था। उसकी जमानत अर्जी 5 बार खारिज हो चुकी। हालांकि, भारतीय एजेंसियां उसके प्रत्यर्पण की कोशिश में जुटी हैं। लंदन की एक अदालत में इस मामले की सुनवाई चल रही है। पिछले महीने लंदन की वेस्टमिंस्टर अदालत ने नीरव मोदी को 9 जुलाई तक और न्यायिक हिरासत में रखने का आदेश दिया था।

बता दें कि, मार्च 2020 में ईडी ने नीरव मोदी की कई संपत्तियों को जब्त कर नीलाम किया था। इनमें महंगी पेंटिंग्स, घड़ी, पर्स, महंगी कारें, हैंडबैग जैसी चीजें शामिल थीं। ईडी के मुताबिक, इस नीलामी के दौरान करीब 51 करोड़ मिल थे।

Write a comment
X