1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. वित्त वर्ष 2022 में भारत की GDP 8.7 फीसदी रहने की उम्मीद: MOFSL

वित्त वर्ष 2022 में भारत की GDP 8.7 फीसदी रहने की उम्मीद: MOFSL

वित्त वर्ष 2022 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 8.7 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज (एमओएफएसएल) ने अपनी एक हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 19, 2021 20:52 IST
वित्त वर्ष 2022 में भारत की GDP 8.7 फीसदी रहने की उम्मीद: MOFSL- India TV Paisa
Photo:FILE

वित्त वर्ष 2022 में भारत की GDP 8.7 फीसदी रहने की उम्मीद: MOFSL

नई दिल्ली: वित्त वर्ष 2022 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 8.7 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज (एमओएफएसएल) ने अपनी एक हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया है। रिपोर्ट में कहा गया है, दूसरी क्रूर कोविड लहर के कारण, हमने अपने वास्तविक जीडीपी विकास पूवार्नुमानों को संशोधित किया है। हमारे मार्च 2021 के 30 प्रतिशत वर्ष-दर-वर्ष के पूवार्नुमान की तुलना में अब हम वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में 21 प्रतिशत की वास्तविक जीडीपी वृद्धि की उम्मीद करते हैं।

रिपोर्ट में वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में कुछ नीचे के संशोधन के साथ यह अनुमान लगाया गया है। इसमें कहा गया है, हालांकि जैसा कि जून 2021 में कोविड मामलों में तेजी से गिरावट आई है, 2022 की दूसरी छमाही और 2023 की पहली छमाही के दौरान कुछ रुकी हुई मांग दिखाई दे सकती है।

एमओएफएसएल की रिपोर्ट में कहा गया है कि नतीजतन अब हम वित्त वर्ष 2022 में वास्तविक जीडीपी विकास दर 8.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाते हैं, जिसकी पहले 11.1 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था। बहरहाल, इसने अपने वित्त वर्ष 2023 के पूवार्नुमानों को पहले के 4 प्रतिशत से संशोधित कर अब 5.4 प्रतिशत कर दिया है।

रिपोर्ट के अनुसार, हालांकि हमने अपने वास्तविक विकास पूवार्नुमानों को संशोधित किया है, यह ध्यान रखना दिलचस्प है कि हमारे नाममात्र सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि का अनुमान वास्तव में वित्त वर्ष 2022 और वित्त वर्ष 2023 के लिए मामूली रूप से बढ़ाया गया है। इसमें कहा गया है, यह मुख्य रूप से इसलिए है, क्योंकि जीडीपी डिफ्लेटर - सीपीआई पर डब्ल्यूपीआई के साथ अधिक जुड़ा हुआ है - वित्त वर्ष 2022 या वित्त वर्ष 2023 के लिए 6.5 प्रतिशत या 4.5 प्रतिशत तक संशोधित किया गया है। नतीजतन, इसने कहा है कि वित्त वर्ष 2022 के लिए नोमिनल जीडीपी वृद्धि अब 15.6 प्रतिशत रहने का अनुमान है।

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15