1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Infosys और Accenture ने दी खुशखबरी, कंपनी उठाएगी कर्मचारियों और उनके परिवार के COVID-19 टीकाकरण का खर्च

Infosys और Accenture ने दी खुशखबरी, कंपनी उठाएगी कर्मचारियों और उनके परिवार के COVID-19 टीकाकरण का खर्च

इंफोसिस से पहले सॉफ्टवेयर कंसल्टिंग फर्म एक्सेंचर (Accenture) ने भी कहा था कि वह अपने कर्मचारियों और उनके आश्रितों के कोविड-19 टीकाकरण का पूरा खर्च उठाएगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: March 03, 2021 17:41 IST
Indian Army personnel receives a dose of COVID-19 vaccine at a military hospital in Jabalpur- India TV Paisa
Photo:PTI

 

Indian Army personnel receives a dose of COVID-19 vaccine at a military hospital in Jabalpur

नई दिल्‍ली। सॉफ्टवेयर क्षेत्र की प्रमुख कंपनी इंफोसिस (Infosys) अपने कर्मचारियों और उनके परिवार के लिए कोविड-19 टीकाकरण का पूरा खर्च स्‍वयं वहन करेगी और वर्तमान में कंपनी इसके लिए हेल्‍थकेयर प्रोवाइडर्स के साथ भागीदारी की संभावना तलाश रही है।

मनीकंट्रोल की रिपोर्ट के मुताबिक इंफोसिस के चीफ ऑपरेटिंग ऑफ‍िसर प्रवीण राव ने कहा कि इंफोसिस भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत एवं स्‍वीकृत प्रक्रिया और समय पर अपने कर्मचारियों एवं उनके परिजनों को कोविड-19 टीका लगाने के लिए हेल्‍थकेयर प्रोवाइडर्स के साथ भागीदारी करने की संभावना तलाश रही है। उन्‍होंने कहा कि अपनी हेल्‍थ और वेलनेस प्रतिबद्धता के तहत इंफोसिस अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के टीकाकरण का पूरा खर्च स्‍वयं वहन करेगी।

पिछले साल जब कोविड-19 का प्रसार शुरू हुआ तब इंफोसिस ने 40 देशों में फैले अपने 2.4 लाख कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी थी। कंपनी के अधिकांश कर्मचारी अभी भी अपने-अपने घरों से ही काम कर रहे हैं।

इंफोसिस से पहले सॉफ्टवेयर कंसल्टिंग फर्म एक्‍सेंचर (Accenture) ने भी कहा था कि वह अपने कर्मचारियों और उनके आश्रितों के कोविड-19 टीकाकरण का पूरा खर्च उठाएगी। एक्‍सेंचर के चेयरपर्सन और सीनियर मैनेजिंग डायरेक्‍टर ने एक बयान में कहा था कि उन कर्मचारियों के लिए, जो पात्र हैं और कोविड-19 टीका लगवाने चाहते हैं, एक्‍सेंचर उन सभी कर्मचारियों और उनके आश्रितों को लगने वाले टीके का सारा खर्च वहन करेगी, जो कंपनी के मेडिकल बेनेफ‍िट कार्यक्रम का हिस्‍सा हैं। हम अपने कर्मचारियों का इस कठिन समय में धैर्य रखने और साथ में काम करने के लिए धन्‍यवाद करते हैं। एक्‍सचेंर के पास भारत में 2 लाख कर्मचारी हैं।

भारत के सबसे बड़े प्राइवेट सेक्‍टर नियोक्‍ताओं में से एक आईटी इंडस्‍ट्री है। इंडस्‍ट्री डाटा के मुताबिक यहां 45 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है। इसका अप्रत्‍यक्ष रोजगार, बचत, निवेश और उपभोग पर भी कई गुना प्रभाव है। हाल की तिमाहियों में आईटी कंपनियों ने बेहतर वित्‍तीय परिणाम दिए हैं और इस साल उन्‍होंने अक्रामक तरीके से नई भर्तियां करने की योजना बनाई है।   

यह भी पढ़ें: EPF सब्‍सक्राइर्ब्‍स के लिए बुरी खबर, EPFO 2020-21 के लिए ब्याज दर घटाने पर कल ले सकता है फैसला

यह भी पढ़ें: Samsung Galaxy का नया फोन 6+128GB, 64-MP मेन कैमरा और 5000 mAh बैटरी के साथ हुआ लॉन्‍च, 5 मार्च से शुरू होगी सेल

यह भी पढ़ें: महंगे पेट्रोल को कहें बाए-बाए, 150 किमी माइलेज वाली इस मोटरसाइकिल को 4 दिन में 5000 लोगों ने खरीदा

यह भी पढ़ें: महंगे पेट्रोल-डीजल से राहत के लिए नितिन गडकरी ने उठाया कदम

यह भी पढ़ें: भारत में 250 रुपये में तो चीन में सबसे 'महंगी' है कोरोना वैक्सीन, जानिए दूसरे देशों में कितने का है 'टीका'

Write a comment
X