ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. राष्ट्रहित में बड़े से बड़ा जोखिम उठाने के लिये तैयार, सरकार हमेशा उद्योगों के साथ: प्रधानमंत्री

राष्ट्रहित में बड़े से बड़ा जोखिम उठाने के लिये तैयार, सरकार हमेशा उद्योगों के साथ: प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में आज हर क्षेत्र में आत्मविश्वास बढ़ रहा है, स्टार्टअप देश की पहचान बन रहे हैं, आज देश में 60 यूनिकार्न हैं

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: August 11, 2021 18:28 IST
प्रधानमंत्री का...- India TV Paisa
Photo:PTI

प्रधानमंत्री का उद्योग जगत को संदेश

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सुधारों को जारी रखने की सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए उद्योगों को साफ कहा कि वो देश के हित में बड़े से बड़ा जोखिम उठाने को तैयार है। हालांकि उन्होने ये भी कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के लिये अहम आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता का बड़ा दायित्व उद्योगों पर है।  प्रधानमंत्री ने आज सीआईआई की सालाना बैठक  को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होने कहा कि जीएसटी इतने सालों तक अटका रहा था, क्योंकि जो पहले सरकार में थे वो पॉलिटिकल रिस्क उठाने की हिम्मत नहीं जुटा सके, हमने न सिर्फ ये कदम उठाया, साथ ही रिकॉर्ड जीएसटी कलेक्शन भी देख रहे हैं। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्योग जगत से देश में विनिर्माण को गति देने और ‘ब्रांड इंडिया’ को आगे बढ़ाने का आह्वान करते हुए कहा कि सरकार हमेशा उनकी समस्याओं को दूर करने के लिये उनके साथ खड़ी है। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की सालाना बैठक को ‘ऑनलाइन’ संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था फिर से तेजी से आगे बढ़ रही है और विभिन्न क्षेत्रों में नये अवसर सृजित हो रहे हैं। उद्योग जगत से देश में विनिर्माण को गति देने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमें आपकी (उद्योग) भागीदारी के साथ ब्रांड इंडिया को आगे बढ़ाना है, मैं आपके लिये हमेशा खड़ा रहा हूं और खड़ा रहूंगा।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार कारोबार सुगमता के लिये सुधारों को तेजी से आगे बढ़ा रही है और महामारी के दौरान भी हमने इस दिशा में कई महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमने हाल में कंपनी कानून में बदलाव कर कई प्रावधानों को अपराध की श्रेणी से हटाया श्रम सुधारों पर ध्यान दिया जा रहा है।’’ 

मोदी ने कहा, ‘‘हमने संसद के मौजूदा सत्र में अतीत की गलतियों को सुधारते हुए पूर्व तिथि से कर लगाने के कानून को समाप्त किया। इससे उद्योग के बीच भरोसा बढ़ेगा।’’ उन्होंने कहा कि भारत में आज प्रतिस्पर्धी कर व्यवस्था है, कारोबार सुगमता में हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। सुधारों का ही नतीजा है कि देश में रिकार्ड प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आ रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हम सुधारों को बाध्यता के तहत नहीं बल्कि एक भरोसे और मजबूती के साथ आगे बढ़ा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि देश में आज हर क्षेत्र में आत्मविश्वास बढ़ रहा है। स्टार्टअप देश की पहचान बन रहे हैं और आज देश में 60 ‘यूनिकार्न’ हैं। इनमें से 21 तो पिछले कुछ माह के दौरान ही इस स्तर पर पहुंचे हैं। मोदी ने कहा कि भारत में आर्थिक वृद्धि को गति देने के शानदार अवसर हैं और उद्योग जगत को इसका लाभ उठाना चाहिए। 

यह भी पढ़ें: PwC इंडिया देगी 10 हजार नौकरियां, जानिये कहां और किसे मिलेंगे अवसर

यह भी पढ़ें: अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत, 1-7 अगस्त के बीच निर्यात 50 प्रतिशत बढ़ा

 

Write a comment
elections-2022