1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मौद्रिक नीति की घोषणा: RBI ने ग्रोथ अनुमान घटाया, ब्याज दरों में बदलाव नहीं

मौद्रिक नीति की घोषणा: RBI ने ग्रोथ अनुमान घटाया, ब्याज दरों में बदलाव नहीं

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति का ऐलान कर दिया है, ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: June 04, 2021 10:32 IST
RBI गवर्नर शक्तिकांत...- India TV Paisa
Photo:PTI

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास आज करेंगे MPC बैठक के नतीजों का ऐलान, क्या बढ़ेंगी ब्याज दरें?

भारतीय रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति का ऐलान कर दिया है, ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। आरबीआई गवर्नर ने मौद्रिक नीति समीक्षा (MPC) की बैठक के नतीजों की घोषणा की। लगातार बढ़ती महंगाई के कारण रिजर्व बैंक की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने पॉलिसी रेट में कोई बदलाव ना करने का फैसला किया है। आरबीआई ने अप्रैल में हुई पिछली एमपीसी बैठक में प्रमुख ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया था। इसके साथ ही रेपो रेट 4 प्रतिशत, रिवर्स रेपो रेट 3.35 और सीआरआर 4 प्रतिशत पर स्थिर है। एमएसएफ रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4.25 प्रतिशत रहेगा। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि बेहतर मानसून के साथ ही इकोनॉमी में रिकवरी देखने को मिलेगी। 

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने फैसला किया है कि जब तक Covid-19 का असर खत्म नहीं होता तब तक अकोमडेटिव नजरिया ही बरकरार रखा जाएगा। RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि फिस्कल ईयर 2021 में रियल GDP -7.3 फीसदी रही। अप्रैल में महंगाई दर 4.3 फीसदी रही जो राहत है।  RBI के मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की तीन दिनों की बैठक 2 जून को शुरू हुई थी। पॉलिसी पर यह फैसला ऐसे समय में हुआ है जब कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर का देश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर साफ नजर आ रहा है।

पढें-  LPG ग्राहकों को मिल सकते हैं 50 लाख रुपये, जानें कैसे उठा सकते हैं लाभ

पढें-  खुशखबरी! हर साल खाते में आएंगे 1 लाख रुपये, मालामाल कर देगी ये स्कीम

उन्होंने कहा, अच्छे मानसून से इकोनॉमी में रिवाइवल संभव है। ग्रोथ वापस लाने के लिए पॉलिसी सपोर्ट बेहद अहम है। रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष यानी 2021-22 के लिए ग्रोथ रेट का अनुमान घटा दिया है।RBI के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में ग्रोथ रेट 9.5 फीसदी रहेगा। पहले रिजर्व बैंक ने 10.50 फीसदी का अनुमान जताया था। इसके साथ ही रिजर्व बैंक ने 2021-22 में महंगाई दर 5.1% रहने का अनुमान जताया है।  RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि फिस्कल ईयर 2021 में रियल GDP -7.3 फीसदी रही। पहली तिमाही में 5.2%, दूसरी में 5.4%, 4.7 प्रतिशत तीसरी तिमाही में और 5.3 प्रतिशत चौथी तिमाही में महंगाई दर रह सकती है

पढें-  हिंदी समझती है ये वॉशिंग मशीन! आपकी आवाज पर खुद धो देगी कपड़े

पढें-  किसान सम्मान निधि मिलनी हो जाएगी बंद! सरकार ने लिस्ट से इन लोगों को किया बाहर

भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास के अनुसार पहली तिमाही में ग्रोथ 8.5%, दूसरी तिमाही में 7.9%, तीसरी तिमाही में 7.2% और चौथी तिमाही में 6.6% रहेगी। 

Write a comment
X