1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. नियुक्ति गतिविधियां महामारी-पूर्व के स्तर के पार, जुलाई में उच्चतम स्तर पर: रिपोर्ट

नियुक्ति गतिविधियां महामारी-पूर्व के स्तर के पार, जुलाई में उच्चतम स्तर पर: रिपोर्ट

देश में नियुक्ति गतिविधियां जुलाई में पिछले महीने के मुकाबले 11 प्रतिशत बढ़कर अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं। यह कोविड-19 के कारण प्रभावित कारोबार क्षेत्र के उबरने और आर्थिक पुनरुद्धार की मजबूत वापसी दर्शाता है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 06, 2021 19:47 IST
नियुक्ति गतिविधियां महामारी-पूर्व के स्तर के पार, जुलाई में उच्चतम स्तर पर: रिपोर्ट- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

नियुक्ति गतिविधियां महामारी-पूर्व के स्तर के पार, जुलाई में उच्चतम स्तर पर: रिपोर्ट

मुंबई: देश में नियुक्ति गतिविधियां जुलाई में पिछले महीने के मुकाबले 11 प्रतिशत बढ़कर अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं। यह कोविड-19 के कारण प्रभावित कारोबार क्षेत्र के उबरने और आर्थिक पुनरुद्धार की मजबूत वापसी दर्शाता है। नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के अनुसार जून में 2,359 विज्ञापन के मुकाबले जुलाई में नौकरियों के 2,625 विज्ञापन दिखे। यह कोविड से पहले के स्तर को मिलाकर भी अब तक का उच्चतम स्तर है। 

रिपोर्ट में कहा गया कि भारतीय नौकरी बाजार में पिछले महीने की तुलना में लगातार दूसरे महीने वृद्धि दर्ज की गई है। कोरोना की दूसरी लहर के कारण अप्रैल और मई में गिरावट के बाद जून में नियुक्तियों में 15 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। नौकरी जॉबस्पीक एक मासिक सूचकांक है जो कि नौकरी डॉट कॉम वेबसाइट पर डाली जानी वाली नौकरियों के आधार पर नियुक्ति गतिविधियों की गणना करता है और उन्हें रिकॉर्ड करता है। 

रिपोर्ट के अनुसार व्यापार के लगातार डिजिटलीकरण की तरफ बढ़ने के साथ आईटी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र में जून के मुकाबले जुलाई में नियुक्ति गतिविधियों में 18 प्रतिशत की वृद्धि देखी है। रिपोर्ट में कहा गया कि जुलाई में नियुक्ति गतिविधियों में 11 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ सभी क्षेत्र सकरात्मक दिशा में रहे। जिससे नौकरी पाने वाले को राहत मिली। महामारी के दौरान बुरी तरह प्रभावित होने वाले होटल, रेस्तरां, विमानन (36 प्रतिशत) , यात्रा और खुदरा (17 प्रतिशत) क्षेत्र में लगातार दूसरे महीने नियुक्ति गतिविधियों में वृद्धि जारी रही। 

वहीं अकाउंटिंग कराधान वित्त में 27 प्रतिशत, त्वरित उपभोग वाले सामानों (एफएमसीजी) में 17 प्रतिशत, बैंकिंग और सेवा क्षेत्र में 13 प्रतिशत, शिक्षा, अध्यापन क्षेत्र में जून के मुकाबले जुलाई में नियुक्ति गतिविधियों में बढ़ोतरी रही। देश के सभी चार महानगरों में जुलाई के दौरान माह-दर- माह आधार पर नियुक्तियों में वृद्धि हुई। दिल्ली में इस दौरान 13 प्रतिशत और मुंबई-चेन्नई की नियुक्ति गतिविधियों में 10 प्रतिशत और कोलकाता में यह चार प्रतिशत रही।

Write a comment
Click Mania
Modi Us Visit 2021