Budget 2023
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भारतीय निवेशक जल्द खरीद सकेंगे Google, Apple जैसी अमेरिकी कंपनियों के शेयर,NSC IFSC ने शुरू की तैयारी

भारतीय निवेशक जल्द खरीद सकेंगे Google, Apple जैसी अमेरिकी कंपनियों के शेयर,NSC IFSC ने शुरू की तैयारी

अगर आप भी दुनिया की दिग्गज कंपनियों जैसे गूगल, अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट आदि में निवेश करना चाहते हैं तो जल्द ही आपकी यह ख्वाहिश पूरी हो सकती है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 10, 2021 15:38 IST
भारतीय निवेशक जल्द...- India TV Paisa

भारतीय निवेशक जल्द खरीद सकेंगे Google, Apple जैसी अमेरिकी कंपनियों के शेयर,NSC IFSC ने शुरू की तैयारी 

अगर आप भी दुनिया की दिग्गज कंपनियों जैसे गूगल, अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट आदि में निवेश करना चाहते हैं तो जल्द ही आपकी यह ख्वाहिश पूरी हो सकती है। भारतीय निवेशक जल्द ही अमेरिका में सूचीबद्ध कंपनियों के शेयर खरीद सकेंगे। गुजरात में स्थित अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (IFSC) में NSE की GIFT सिटी शाखा शेयरों की खरीद बिक्री की सुविधा प्रदान करेगी।

एनएसई इंटरनेशनल एक्सचेंज के अनुसार भारतीय निवेशकों के लिए अमेरिकी शेयर खरीदने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर लिया गया है। फिलहाल ब्रोकर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चल रही है। अमेरिकी शेयरों में निवेश के लिए गिफ्ट सिटी में स्थित संस्थाओं के साथ डीमैट खाते खोलने की आवश्यकता होगी। 

पढ़ें- ATM मशीन को बिना छुए निकाल सकते हैं पैसा, इस सरकारी बैंक ने शुरू की सुविधा

पढ़ें- SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर! बैलेंस न होने पर ट्रांजेक्शन हुआ फेल, तो लगेगा इतना 'जुर्माना'

NSE IFSC की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि अमेरिकी शेयरों का संपूर्ण व्यापार, क्लियरिंग, निपटान और होल्डिंग, IFSC प्राधिकरण के नियामक दायरे में होगा। IFSC प्राधिकरण ने अपने नियामक सैंडबॉक्स के तहत इस पेशकश की सुविधा दी है, जहां खरीदी के लिए फंड ट्रान्सफर RBI की लिबरलाइज्ड रेमिटेंस स्कीम (LRS) के माध्यम से होगा।

वर्तमान में भारतीय निवेशक उन नामित ऑनलाइन ब्रोकरों के माध्यम से अमेरिकी कंपनियों के स्टॉक खरीदते हैं, जिनके पास यूएस और भारतीय नियामकों की अनुमति होती है। ये ब्रोकर अमेरिकी स्टॉक के दस लाखवें हिस्से तक के स्वामित्व की अनुमति देते हैं। वर्तमान में प्रत्येक भारतीय को एलआरएस के तहत सालाना 250,000 डॉलर तक रेमिट करने की अनुमति है। 

पढ़ें- शहर में भी लागू हो मनरेगा, मोदी सरकार को अर्थशास्त्री जयां द्रेज का सुझाव

पढ़ें- बीजेपी शासित इस राज्य में 5 रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल, शराब के दाम भी 25% घटे, आज रात से घटेंगी कीमतें

पढ़ें-  भारत के सभी बैंकों के लिए आ गई ये सिंगल एप, ICICI बैंक ने किया कमाल

Latest Business News