1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Zomato के सह-संस्‍थापक गौरव गुप्‍ता ने छोड़ी कंपनी, शेयरों में आया तेज उतार-चढ़ाव

Zomato के सह-संस्‍थापक गौरव गुप्‍ता ने छोड़ी कंपनी, शेयरों में आया तेज उतार-चढ़ाव

गुप्ता ने एक आंतरिक मेल में कहा है कि वह जोमैटो में 6 साल तक रहने के बाद अब एक नए अध्याय की शुरुआत कर रहे हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: September 14, 2021 13:09 IST
Zomato cofounder Gaurav Gupta quits- India TV Paisa
Photo:ZOMATO

Zomato cofounder Gaurav Gupta quits

नई दिल्‍ली। फूड टेक्‍नोलॉजी कंपनी जोमैटो (Zomato) के सह-संस्‍थापक और शीर्ष कार्यकारी गौरव गुप्‍ता ने कंपनी छोड़ने का फैसला किया है। मनीकंट्रोल ने सूत्रों के हवाल से यह रिपोर्ट प्रकाशित की है। गौरव गुप्‍ता के कंपनी छोड़ने की खबरों के बाद से बीएसई पर जोमैटो के शेयरों में तेज उतार-चढ़ाव के साथ कारोबार होते हुए देखा गया। मंगलवार को जोमैटो का शेयर बीएसई पर 145.25 रुपये पर खुला और अभी तक के कारोबार में यह 152.75 के उच्‍च स्‍तर और 136.20 के निम्‍न स्‍तर के बीच कारोबार करते देखा गया।

गौरव गुप्‍ता ने 2015 में जोमैटो के साथ अपनी नई शुरुआत की थी और 2018 में उन्‍हें प्रमोट कर कंपनी का चीफ ऑपरेटिंग ऑफ‍िसर बनाया गया था। इसके बाद 2019 में उन्‍हें कंपनी का सह-संस्‍थापक बनाया गया। आईपीओ के लिए निवेशकों और मीडिया से बातचीत के लिए वह  कंपनी का चेहरा थे। जोमैटो द्वारा सोमवार को ग्रॉसरी डिलीवरी और न्‍यूट्रास्‍यूटिकल बिजनेस बंद करने की घोषणा के एक दिन बाद गुप्‍ता के कंपनी छोड़ने की खबर सामने आई है।

इस मामले से जुड़े सूत्र के मुताबिक जोमैटो के संस्‍थापक दीपेंदर गोयल और गौरव गुप्‍ता के बीच पिछले कुछ समय से अनबन चल रही थी और यह इस्‍तीफा उसी का परिणाम है। गुप्‍ता ने ग्रॉसरी, न्‍यूट्रास्‍यूटिकल सहित कई नए बिजनेस शुरू किए थे, जो संघर्ष कर रहे थे या बंद हो गए थे। इसके अलावा गुप्‍ता के नेतृत्‍व में विदेशों में किया गया विस्‍तार पर कुछ अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहा था।

गुप्‍ता ने एक आंतरिक मेल में कहा है कि वह जोमैटो में 6 साल तक रहने के बाद अब एक नए अध्‍याय की शुरुआत कर रहे हैं। ग्रॉसरी डिलीवरी सर्विस को बंद करने के बाद जोमैटो ने न्‍यूट्रास्‍यूटिकल बिजनेस को भी बंद करने की योजना बनाई है। जोमैटो ने पिछले साल हेल्‍थ एंड फ‍िटनेस प्रोडक्‍ट्स लॉन्‍च के साथ न्‍यूट्रास्‍यूटिकल बिजनेस में प्रवेश किया था।

कंपनी ने अपना ये बिजनेस उस समय बंद करने का निर्णय लिया है जब सरकार देश में मार्केटप्‍लेस बिजनेस के लिए प्राइवेट लेबल नियमों को कठोर बनाने का प्रयास कर रही है। जोमैटो पिछले महीने ही शेयर बाजारों में सूचीबद्ध हुई है और 30 जून, 2021 को समाप्‍त तिमाही में उसे 356 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है। इससे एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी को 99.8 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की कुल आय 916 करोड़ रुपये रही। एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी की आय केवल 238.5 करोड़ रुपये थी।  

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने बदला MSP पर खरीद करने का फॉर्मूला, सिर्फ किसानों को मिलेगा फायदा

यह भी पढ़ें: RBI ने आम जनता को किया आगाह, KYC अपडेट के नाम पर ऐसे हो रही है धोखाधड़ी रहें बचकर

यह भी पढ़ें: EPFO ने दी राहत, आधार को यूएएन से जोड़ने की समयसीमा बढ़ाई

यह भी पढ़ें: OPPO F19s जल्‍द होगा भारत में लॉन्‍च, जानिएं कीमत और खूबियां

यह भी पढ़ें: जालान कालरॉक गठजोड़ ने की Jet Airways को लेकर आज ये बड़ी घोषणा

Write a comment
Click Mania