Friday, February 23, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. 40 करोड़ रुपये से अधिक कीमत वाले घरों की ​बिक्री 3 गुना बढ़ी, इन 7 शहरों में रही सबसे अधिक मांग

40 करोड़ रुपये से अधिक कीमत वाले घरों की ​बिक्री 3 गुना बढ़ी, इन 7 शहरों में रही सबसे अधिक मांग

देश में 2023 में अभी तक शीर्ष सात शहरों में बेची गई 58 अल्ट्रा-लक्जरी संपत्तियों में से अकेले मुंबई में 53 इकाइयां बेची गईं। गुरुग्राम में दो अपार्टमेंट और नई दिल्ली में दो बंगले बेचे गए। हैदराबाद के जुबली हिल्स में 40 करोड़ रुपये से अधिक का एक आवासीय सौदा हुआ।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: November 30, 2023 14:44 IST
‘अल्ट्रा-लक्जरी’ मकान- India TV Paisa
Photo:FILE ‘अल्ट्रा-लक्जरी’ मकान

रियल एस्टेट सेक्टर उफान पर है। इसकी वजह देश में प्रॉपर्टी की रिकॉर्ड मांग है। आपको जानकार आश्चर्य होगा कि 50 से 1 करोड़ के मकानों के साथ ‘अल्ट्रा-लक्जरी’ (भव्य व आलीशान) मकानों की बिक्री ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। ‘अल्ट्रा-लक्जरी’ घर वैसे घरों को कहते हैं, जिसकी कीमत 40 करोड़ रुपये से अधिक होती है। रियल एस्टेट सलाहकार एनारॉक की रिपोर्ट के अनुसार, जबरदस्त मांग के दम पर सात प्रमुख शहरों में इस साल अभी तक 40 करोड़ रुपये से अधिक कीमत वाले ‘अल्ट्रा-लक्जरी’ (भव्य व आलीशान) मकानों की बिक्री तीन गुना होकर 4,063 करोड़ रुपये रही। 

इन शहरों में महंगे घरों की मांग सबसे अधिक 

एनारॉक के अनुसार, भारत के शीर्ष सात प्रमुख शहरों दिल्ली-एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र), मुंबई-एमएमआर (मुंबई मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र), चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद और पुणे में इस साल अभी तक 4,063 करोड़ रुपये की 58 इकाइयों की बिक्री हुई है। रियल एस्टेट सलाहकार की ओर से बृहस्पतिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2022 में 1,170 करोड़ रुपये मूल्य की 13 इकाइयां बेची गईं थी। एनारॉक के चेयरमैन अनुज पुरी ने कहा कि वैश्विक महामारी के बाद से लक्जरी और अल्ट्रा-लक्जरी दोनों संपत्तियों की मांग बढ़ी है। एचएनआई (हाई नेट वर्थ इंडिविजुअल) और अल्ट्रा-एचएनआई निवेश, व्यक्तिगत इस्तेमाल या दोनों के लिए ऐसे मकान खरीद रहे हैं।’’ 

माया नगरी मुंबई सबसे आगे 

देश में 2023 में अभी तक शीर्ष सात शहरों में बेची गई 58 अल्ट्रा-लक्जरी संपत्तियों में से अकेले मुंबई में 53 इकाइयां बेची गईं। गुरुग्राम में दो अपार्टमेंट और नई दिल्ली में दो बंगले बेचे गए। हैदराबाद के जुबली हिल्स में 40 करोड़ रुपये से अधिक का एक आवासीय सौदा हुआ। गुरुग्राम स्थित क्रिसुमी कॉर्पोरेशन के प्रबंध निदेशक मोहित जैन ने रिपोर्ट पर कहा कि हालिया वर्षों में विभिन्न आय वर्ग के लोगों में मकान खरीदने की इच्छा उल्लेखनीय रूप से बढ़ी है। यह मुख्य रूप से एक बेहतर आर्थिक परिदृश्य और जीवन स्तर को ऊपर उठाने की आकांक्षा से प्रेरित है।’’ 

महंगे घरों की मांग बढ़ने की ये वजह 

अंतरिक्ष इंडिया के सीएमडी और दिग्गज रियल एस्टेट एक्सपर्ट राकेश यादव ने इंडिया टीवी को बताया कि लग्जरी जीवन की चाह में बड़ी संख्या में लग्जरी सुविधाओं से लैस घरों की मांग को पैदा किया है। कोरोना महामारी के बाद लग्जरी घरों की खरीदारी में वृद्धि होमबायर्स की बदली हुई मेंटेलिटी का नतीजा है, क्योंकि वे अब बड़े स्पेस और बेहतर सुविधाओं वाले घरों को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं। वे उच्च-स्तरीय सुविधाओं और अच्छे स्थान के अलावा लक्जरी मकानों को प्राथमिकता दे रहे हैं। इसलिए लग्जरी मकानों की आपूर्ति में भी इजाफा हुआ है। भारतीय रियल एस्टेट क्षेत्र में विदेशों में रह रहे भारतीयों (एनआरआई) के इंवेस्टमेंट ने लग्जरी प्रॉपर्टी की बढ़ती मांग में अहम योगदान दिया है। जैसे-जैसे लग्जरी घरों की मांग बढ़ रही है, एनसीआर रियल एस्टेट सेक्टर में गुरुग्राम घर खरीदारों के बीच प्रायरिटी बनकर उभरा है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement