Budget 2023
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पहले कंपनी के मालिक को किया बाहर अब कर्मचारियों की बारी, Zomato करेगा इतनी छंटनी

पहले कंपनी के मालिक को किया बाहर अब कर्मचारियों की बारी, Zomato करेगा इतनी छंटनी

Zomato के सीईओ के इस्तीफा देने के बाद से कंपनी ने अपने यहां काम करने वाले कर्मचारियों को निकालने की योजना बनाई है। आइए जानते हैं कि कितने लोगो को बाहर निकाला जाएगा।

Vikash Tiwary Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary
Published on: November 19, 2022 16:52 IST
पहले कंपनी के मालिक को किया बाहर अब Employee की बारी- India TV Paisa
Photo:FILE पहले कंपनी के मालिक को किया बाहर अब Employee की बारी

Zomato Layoffs: दुनिया भर में कंपनियों द्वारा की जा रही छंटनी का असर भारतीय फूड स्टार्टअप पर भी देखने को मिल रहा है। कल जोमैटो के को फाउंडर और सीईओ मोहित गुप्ता ने अपने पद से रिसाइन किया था। अब कंपनी ने कर्मचारियों की छंटनी करने की पुष्टि कर दी है।

कंपनी ने की पुष्टि

फूड एग्रीगेटर जोमैटो ने शनिवार को पुष्टि की है कि वह अपने कर्मचारियों के 3 प्रतिशत से कम की छंटनी करेगा। कंपनी ने कहा कि छंटनी नियमित प्रदर्शन पर आधारित है। Zomato के एक प्रवक्ता ने कहा, "हमारे कार्यबल के 3 प्रतिशत से कम का नियमित प्रदर्शन आधारित विचार-विमर्श के बाद ये निर्णय लिया गया है।"

इस मंथन से पहले गुरुग्राम स्थित कंपनी में लगभग 3,800 कर्मचारी थे। जोमैटो ने आखिरी बार मई 2020 में कोरोनोवायरस महामारी के बाद व्यापार में मंदी के जवाब में 520 कर्मचारियों या अपने कर्मचारियों के 13 प्रतिशत को निकाल दिया था। बता दें, पिछले कुछ हफ्तों में तीन शीर्ष स्तर के कंपनी से बाहर निकलने के तुरंत बाद छंटनी की गई है।

कंपनी में इन बड़े पद पर भी लिए गए इस्तीफा

Zomato के को-फाउंडर मोहित गुप्ता ने शुक्रवार को कंपनी छोड़ दी थी। यह इस महीने की शुरुआत में राहुल गंजू, जो नई पहल के प्रमुख थे, और इंटरसिटी लीजेंड्स सर्विस के पूर्व प्रमुख सिद्धार्थ झावर के बाहर निकलने की जानकारी है।

4 साल तक कंपनी में किए काम

मोहित गुप्ता गुरुग्राम स्थित फर्म में साढ़े चार साल के कार्यकाल के बाद निकल गए। वह 2018 में कंपनी से जुड़े थे और जोमैटो की फूड डिलिवरी यूनिट को लीड कर रहे थे। कंपनी ने उन्हें 2020 में को-फाउंडर के तौर पर प्रोन्नत किया गया था।

कंपनी को हो रहा था घाटा

सितंबर तिमाही के लिए जोमैटो का शुद्ध घाटा पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में ₹434.9 की तुलना में ₹250.8 करोड़ हो गया। इस बीच, परिचालन से राजस्व 62.20 प्रतिशत बढ़कर 1,661.3 करोड़ रुपये हो गया।

Latest Business News