Thursday, July 18, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. IPO का बाजार फिर सजने को तैयार, दो दर्जन से भी ज्यादा कंपनियां ला रहीं ₹30,000 करोड़ का आईपीओ

IPO का बाजार फिर सजने को तैयार, दो दर्जन से भी ज्यादा कंपनियां ला रहीं ₹30,000 करोड़ का आईपीओ

आईपीओ के जरिये साल 2024 में 30 कंपनियों ने 27,780 करोड़ रुपये जुटाए हैं, जबकि कैलेंडर 2023 में 57 कंपनियों ने 49,500 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

Edited By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: June 12, 2024 7:42 IST
करीब 18 कंपनियों को सेबी से आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) शुरू करने की मंजूरी मिल गई है।- India TV Paisa
Photo:FREEPIK करीब 18 कंपनियों को सेबी से आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) शुरू करने की मंजूरी मिल गई है।

आईपीओ में पैसा लगाने को आप तैयारी कर लीजिए। प्राइमरी मार्केट में आईपीओ की झड़ी लगने वाली है। दो दर्जन से अधिक कंपनियां अगले दो महीनों में आईपीओ लाने की उम्मीद कर रही हैं। इन कंपनियों का टारगेट 30,000 करोड़ रुपये है। लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार से निवेशकों की उम्मीदें फिर से बढ़ गई हैं। नई सरकार को लेकर माना जा रहा है कि स्थिर शासन और नीतियों के मामले में आने वाला समय बेहतर रहेगा। इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, निवेशक नए शेयर खरीदने के लिए उत्सुक हैं।

इन कंपनियों के आईपीओ आएंगे

खबर के मुताबिक, बैंकरों का कहना है कि अगले एक से दो महीनों में आईपीओ लॉन्च करने वाली कंपनियों में एफकॉन्स इंफ्रास्ट्रक्चर, एमक्योर फार्मास्यूटिकल्स, एलाइड ब्लेंडर्स एंड डिस्टिलर्स, आशीर्वाद माइक्रोफाइनेंस, स्टेनली लाइफस्टाइल, वारी एनर्जीज, प्रीमियर एनर्जीज, शिवा फार्माकेम, बंसल वायर इंडस्ट्रीज, वन मोबिक्विक सिस्टम्स और सीजे डार्कल लॉजिस्टिक्स शामिल हैं। करीब 18 कंपनियों को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) शुरू करने की मंजूरी मिल गई है, जिसके तहत वे सामूहिक रूप से 20,000 करोड़ रुपये से अधिक जुटाएंगी। दूसरी 37 कंपनियों ने 50,000 करोड़ रुपये से अधिक जुटाने के लिए बाजार नियामक के पास ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) दाखिल किया है और मंजूरी का इंतजार कर रही हैं।

आम चुनाव के बाद पहला आईपीओ

ऑनलाइन ट्रैवल प्लेटफॉर्म इक्सिगो का आईपीओ, आम चुनाव के बाद पहला है, खुदरा निवेशकों की मजबूत मांग के चलते बीते सोमवार को खुलने के कुछ ही घंटों के भीतर पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया। 740 करोड़ रुपये का सार्वजनिक निर्गम बुधवार को बंद होगा। जानकारों का कहना है कि मोदी सरकार की वापसी से उत्साहित बाजार को मजबूत आर्थिक विकास को समर्थन देने के लिए बुनियादी ढांचे पर खर्च और घरेलू विनिर्माण पर जोर देने के साथ नीतिगत निरंतरता की उम्मीद है। इसी का नतीजा है कि कई कंपनियां अब मजबूत घरेलू फ्लो के बीच निकट भविष्य में अपने आईपीओ लॉन्च करने की योजना बना रही हैं।

चल रही है जोरदार तैयारी

भारत की तीसरी सबसे बड़ी भारतीय निर्मित विदेशी शराब (आईएमएफएल) निर्माता, एलाइड ब्लेंडर्स एंड डिस्टिलर्स, इस महीने की दूसरी छमाही में पूंजी बाजार में प्रवेश करने की योजना बना रही है, जिसका लक्ष्य लगभग ₹1,500 करोड़ जुटाना है। जेनेरिक दवा निर्माता, एमक्योर फार्मास्युटिकल्स इस महीने के अंत तक ₹2,200-2,300 करोड़ का आईपीओ लाने की योजना बना रही है, जिसे इस सप्ताह की शुरुआत में सेबी की मंजूरी मिल गई है। शापूरजी पल्लोनजी समूह की प्रमुख इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग और निर्माण कंपनी, एफकॉन्स इंफ्रास्ट्रक्चर अगले महीने ₹7,000 करोड़ जुटाने के लिए अपना पहला सार्वजनिक निर्गम लॉन्च कर सकती है।

ओला इलेक्ट्रिक का आईपीओ अगले कुछ हफ्तों में

ओला इलेक्ट्रिक का ₹5,500 करोड़ का आईपीओ अगले कुछ हफ्तों में आने की उम्मीद है। फोटोवोल्टिक (पीवी) सोलर पैनल निर्माता वारी एनर्जीज कुछ ही हफ्तों में 3,000 करोड़ रुपये के नए इश्यू और मौजूदा निवेशकों से 3.2 मिलियन शेयरों की बिक्री की पेशकश (ओएफएस) के साथ सार्वजनिक होने की संभावना है। इसके अलावा, भारत की दूसरी सबसे बड़ी एकीकृत सौर सेल और सौर मॉड्यूल निर्माता प्रीमियर एनर्जीज जल्द ही अपना सार्वजनिक निर्गम लाने की योजना बना रही है, जिसमें 1,500 करोड़ रुपये का नया निर्गम और 28.2 मिलियन शेयरों तक का ओएफएस शामिल है।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Market News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement