1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. Sensex 1,000 अंकों से अधिक लुढ़का, जानिए Share Market में बड़ी गिरावट की 7 वजह

Sensex 1,000 अंकों से अधिक लुढ़का, जानिए Share Market में बड़ी गिरावट की 7 वजह

एनएसई निफ्टी 302.70 अंक लुढ़ककर 17,213.60 अंक पर बंद हुआ। बजट के बाद से बाजार में तेजी गायब है।

Alok Kumar Edited by: Alok Kumar @alocksone
Updated on: February 07, 2022 16:53 IST
sensex- India TV Paisa
Photo:FILE

sensex

Highlights

  • सेंसेक्स 1,023.63 अंक का गोता लगाकर 57,621.19 अंक पर बंद हुआ
  • निफ्टी 302.70 अंक लुढ़ककर 17,213.60 अंक पर बंद हुआ
  • निवेशकों को सोमवार को करीब तीन लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो गया

नई दिल्ली। हफ्ते के पहले कारोबारी दिन घरेलू शेयर बाजार बड़ी गिरावट के बाद बंद हुआ। सोमवार को बीएसई सेंसेक्स 1,023.63 अंक का गोता लगाकर 57,621.19 अंक पर बंद हुआ। वहीं, एनएसई निफ्टी 302.70 अंक लुढ़ककर 17,213.60 अंक पर बंद हुआ। बजट के बाद से बाजार में तेजी गायब है। वहीं, गिरावट का दौर शुरू हो गया है। आखिर, बाजार में पहले कारोबारी दिन ही इतनी बड़ी गिरावट की वजह क्या रही? आइए जानते हैं। 

क्यों आई बाजार में गिरावट 

  • विदेशी निवेशकों की ओर से भारतीय बाजार में भारी बिकवाली
  • आरबीआई की समीक्षा बैठक में ब्याज दर बढ़ने की आशंका
  • कच्चे तेल में उछाल आने से महंगाई बढ़ने का खतरा
  • बांड-यील्ड का रिटर्न दो साल के उच्चतर स्तर पहुंचने का असर
  • वैश्विक बाजार में भारी बिकवाली का भी घरेलू बाजार पर असर
  • अमेरिकी फेड द्वारा ब्याज दरों में तेजी से बढ़ोतरी की आशंका
  • बड़ी कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का भी असर

इन सेक्टर के शेयरों में बिकवाली 

सोमवार को बाजार में गिरावट ऑटो, एफएमसीजी, आईटी, बैंक, हेल्थकेयर, रियल्टी शेयरों में बिकवाली के कारण आई। एचडीएफसी बैंक करीब चार फीसदी टूट गया। वहीं, पीएसयू बैंकिंग, मेटल और पावर सेक्टर के शेयरों में तेजी दर्ज की गई। 

निवेशकों को 3 लाख करोड़ का नुकसान 

बाजर में बड़ी गिरावट आने से निवेशकों को सोमवार को करीब तीन लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो गया। वहीं, बीते तीन कारोबारी सत्र में निवेशकों को करीब 7 लाख करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। बजट के बाद से बाजार में गिरावट आई है। 

सेंसेक्स के 25 शेयर नुकसान में रहे 

सेंसेक्स के शेयरों में 25 नुकसान में जबकि पांच लाभ में रहे। एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में जबकि हांगकांग का हैंगसेंग और चीन का शंघाई कंपोजिट लाभ में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी रही। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 92.

29 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध बिकवाल बने हुए हैं और उन्होंने शुक्रवार को 2,267.86 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

Write a comment
erussia-ukraine-news