1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. भारतीय बाजार में भयंकर गिरावट, Sensex 1,464 अंक टूटकर 53 हजार के नीचे, निफ्टी भी 431 अंक लुढ़का

भारतीय बाजार में भयंकर गिरावट, Sensex 1,464 अंक टूटकर 53 हजार के नीचे, निफ्टी भी 431 अंक लुढ़का

बाजार में चौतरफा बिकवाली देखने को मिली है। सेंसेक्स और निफ्टी में शामिल सभी शेयर बड़ी गिरावट के साथ लाल निशान में करोबार कर रहे हैं।

Alok Kumar Edited by: Alok Kumar @alocksone
Updated on: May 19, 2022 14:58 IST
Sensex- India TV Hindi
Photo:FILE

Sensex

Share Market: ग्लोबल मार्केट से मिले बेहद कमजोर संकेत के बीच भातरीय Share Market में भयंकर गिरावट आई है। 3 बजे तक बीएसई सेंसेक्स सेंसेक्स  1,464.22 अंक टूटकर 52,744.31 अंक पर कारोबार कर रहा है। वहीं] एनएसई निफ्टी 431.95 अंक लुढ़ककर अहम सपोर्ट तोड़ते हुए 16 हजार से नीचे फिसल कर 15,808.35 अंक पर पहुंच गया है। बाजार में चौतरफा बिकवाली देखने को मिली है। सेंसेक्स और निफ्टी में शामिल सभी शेयर बड़ी गिरावट के साथ लाल निशान में करोबार कर रहे हैं। अमेरिकी समेत दुनियाभर के बाजारों में बड़ी बिकवाली आने से यह गिरावट भारतीय बाजार में आई है। 

निवेशकों के डूबे 5 लाख करोड़ 

बाजार में बड़ी गिरावट आने से निवेशकों के झटके में 5 लाख करोड़ रुपये से  अधिक डूब गए हैं। दरअसल, 18 मई को जब बाजार बंद हुआ थो तो बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों का पूंजीकण 2.55 लाख करोड़ रुपये अधिक था जो 19 मई को बाजार में बड़ी गिरावट आने के बाद घटकर 2.50 लाख करोड़ रह गया। इस तरह निवेशकों को 5 लाख करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान उठाना पड़ा है। 

इन कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट 

सेंसेक्स में टेक महिंद्रा, बजाज फिनसर्व, इंफोसिस, विप्रो, टाटा स्टील, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, बजाज फाइनेंस और भारतीय स्टेट बैंक शुरुआती कारोबार में गिरने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। दूसरी ओर केवल आईटीसी ही हरे निशान में था। पिछले कारोबारी सत्र में, बीएसई सेंसेक्स 109.94 अंक यानी 0.20 प्रतिशत गिरकर 54,208.53 अंक पर आ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 19 अंक यानी 0.12 प्रतिशत के नुकसान से 16,240.30 अंक पर बंद हुआ था। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.61 प्रतिशत बढ़कर 110.87 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया। शेयर बाजारों से उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बुधवार को 1,254.64 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। 

कल भी बाजार टूट कर बंद हुआ था 

वैश्विक बाजारों के मिले-जुले रुख के बीच निवेशकों द्वारा ऊर्जा, आईटी और बैंक शेयरों की बिकवाली से बुधवार को शेयर बाजारों ने शुरुआती लाभ गंवा दिया और सेंसेक्स 109.94 अंक टूटकर बंद हुआ था। कारोबारियों ने बताया कि कच्चे तेल की कीमतों में उछाल के बीच अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया फिसलकर रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया है। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 109.94 अंक यानी 0.20 प्रतिशत गिरकर 54,208.53 अंक पर आ गया। दिन में कारोबार के दौरान यह एक समय 54,786 अंक के उच्चस्तर तक गया और 54,130.89 अंक के निचले स्तर तक भी आया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 19 अंक यानी 0.12 प्रतिशत के नुकसान से 16,240.30 अंक पर बंद हुआ। 

बढ़ती महंगाई से बाजार की चिंता बढ़ी 

 जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, यूरोपीय बाजारों के गिरावट में खुलने से पहले फार्मा और एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों में बढ़त से घरेलू बाजार में तेजी देखी गई। हालांकि, ब्रिटेन में बढ़ती मुद्रास्फीति और फेडरल रिजर्व के मुद्रास्फीति को नीचे लाने के लिए कदम उठाने का भरोसा दिलाए जाने के बाद निवेशकों की धारणा पर असर पड़ा। 

Latest Business News