1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. Stock Market में लगातार पांचवें दिन रही तेजी, Zomato और Yes Bank के शेयर में शानदार बढ़त

Stock Market में लगातार पांचवें दिन रही तेजी, Zomato और Yes Bank के शेयर में शानदार बढ़त

Stock Market शुरुआती कारोबार में चार दिन से लगातार जारी तेजी के बाद निवेशकों की मुनाफावसूली के कारण गिरावट के साथ खुला।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: August 02, 2022 17:59 IST
Stock Market - India TV Hindi News
Photo:PTI Stock Market

Stock Market में लगातार पांचवें दिन तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स लगभग 21 अंक की मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ। बिजली, वाहन और ऊर्जा शेयरों में तेजी से बाजार को समर्थन मिला। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 20.86 अंक यानी 0.04 प्रतिशत की तेजी के साथ 58,136.36 अंक पर बंद हुआ। तिमाही नतीजे के बाद लॉस घटने से जोमैटो पर निवेशकों का बढ़ा भरोसा, जिससे शेयर 20 फीसदी चढ़कर 55.55 रुपये पर बंद हुआ। वहीं, दूसरी ओर यस बैंक का शेयर भी 12.46% की तेजी के साथ 17.15 रुपये पर बंद हुआ।

गिरावट के साथ खुला बाजार

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स चार दिन से लगातार जारी तेजी के बाद निवेशकों की मुनाफावसूली के कारण गिरावट के साथ खुला। वैश्विक शेयर बाजारों में गिरावट के साथ सेंसेक्स एक समय 370 अंक नीचे चला गया था। लेकिन बाद में कारोबार समाप्त होने से पहले तेल एवं गैस, बिजली, दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों तथा वाहन शेयरों में लिवाली से बाजार अपने दिन के निचले स्तर से 583 अंक चढ़कर 58,328.41 अंक पर पहुंच गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 5.40 अंक यानी 0.03 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 17,345.45 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में इंडसइंड बैंक सर्वाधिक 2.59 प्रतिशत चढ़ा।

इन कंपनियों के शेयर में तेजी रही

इसके अलावा एशियन पेंट्स, एनटीपीसी, मारुति, हिंदुस्तान यूनिलीवर, भारतीय स्टेट बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा और पावरग्रिड प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में टेक महिंद्रा, एचडीएफसी लि., लार्सन एंड टुब्रो, टाटा स्टील और एचडीएफसी बैंक शामिल हैं। सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 16 नुकसान में रहे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘वैश्विक संकेतक तेजी के अनुकूल नहीं थे। अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते तनाव को लेकर चिंता के साथ ज्यादातर एशियाई और पश्चिमी बाजार नुकसान में रहे। दुनिया के प्रमुख बाजारों में मंदी की आशंका के साथ कारोबार हो रहा है।’’ उन्होंने कहा कि घरेलू बाजार में हालांकि मजबूती दिखी। इसका कारण प्रमुख कंपनियों के शेयरों में मांग तथा अमेरिकी प्रतिभूतियों के प्रतिफल में गिरावट के साथ रुपये में मजबूती तथा विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली है।

बैंक, वाहन तथा बिजली शेयरों में खरीदारी

कोटक सिक्योरिटीज लि.के इक्विटी शोध प्रमुख श्रीकांत चौहान ने कहा, ‘‘बाजार में मामूली तेजी रही। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बैंक, वाहन तथा बिजली शेयरों में लिवाली से शेयर बाजार में लगातार पांच कारोबारी सत्रों से तेजी है।’’ एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख था। अमेरिकी बाजार सोमवार को नुकसान में थे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.72 प्रतिशत की गिरावट के साथ 99.31 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 41 पैसे मजबूत होकर 78.65 (अस्थायी) पर बंद हुई। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 2,320.61 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।

Latest Business News

Write a comment