1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. गोल्ड बॉन्ड में निवेश का एक और मौका, नई सीरीज के लिए इश्यू प्राइस का ऐलान

गोल्ड बॉन्ड में निवेश का एक और मौका, नई सीरीज के लिए इश्यू प्राइस का ऐलान

नई सीरीज के लिए इश्यू प्राइस 5051 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2020-21 की सीरीज 7 सब्सक्रिप्शन के लिए 12 अक्टूबर से लेकर 16 अक्टूबर तक खुली रहेगी

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: October 09, 2020 22:34 IST
गोल्ड बॉन्ड की...- India TV Paisa
Photo:PTI

गोल्ड बॉन्ड की सातवीं सीरीज के लिए इश्यू प्राइस का ऐलान

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ने आज गोल्ड बॉन्ड की सातवी सीरीज के लिए इश्यू प्राइस का ऐलान कर दिया है। नई सीरीज के लिए इश्यू प्राइस 5051 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2020-21 की सीरीज 7 सब्सक्रिप्शन के लिए 12 अक्टूबर से लेकर 16 अक्टूबर तक खुली रहेगी। 

रिजर्व बैंक ने एक स्टेटमेंट में कहा कि बॉन्ड की कीमत सब्क्रिप्शन अवधि के पहले के 3 कारोबारी दिवस पर 999 शुद्धता वाले सोने की बंद भाव का औसत होती है, जो कि इस बार 5051 रुपये प्रति ग्राम है। इसके साथ ही इस इश्यू प्राइस पर उन निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट भी दी जाएगी जो आवदेन और रकम का भुगतान ऑनलाइन करेंगे। रिजर्व बैंक के मुताबिक ऐसे निवेशकों के लिए गोल्ड बॉन्ड का इश्यू प्राइस 5001 रुपये प्रति ग्राम  रहेगा। बॉन्ड 20 अक्टूबर को जारी होंगे। इससे पहले बॉन्ड की छठी सीरीज के लिए इश्यू प्राइस 5117 रुपये प्रति ग्राम रखा गया था। छठी सीरीज के लिए 31 अगस्त से 4 सितंबर के बीच आवेदन मांगे गए थे।   

बॉन्ड्स की अगली सीरीज 9 नवंबर से 13 नवंबर के बीच सब्सक्रिप्शन के लिए खुली रहेगी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को सरकार की तरफ से रिजर्व बैंक जारी करता है। ये बॉन्ड सोने की मात्रा का आधार पर जारी किए जाते हैं, और निवेशक कम से कम 1 ग्राम सोने के लिए निवेश कर सकता है। अधिकतम सीमा अलग अलग कैटेगरी के लिए अलग अलग है। व्यक्तिगत रूप से एक वित्त वर्ष में अधिकतम 4 किलो सोने के बराबर बॉन्ड में निवेश किया जा सकता है। एचयूएफ के लिए भी यही सीमा है । वहीं ट्रस्ट के लिए एक वित्त वर्ष में निवेश की अधिकतम सीमा 20 किलो है। गोल्ड बॉन्ड की अवधि 8 साल की है, हालांकि पांचवे साल से इसमें एक्जिट ऑप्शन दिया गया है।  

Write a comment
X